इस लेख के लिए टिप्पणियाँ बंद हो गयी है..

टिप्पणियां

Anil Maurya

यह योग के बारे में अल्प जानकारी का विश्लेषण है योग मन का विज्ञानं है मन के वृति की साधना है मन तो सभी मानुष का एक ही है बीबीसी ने धार्मिक विभाजन का पक्छ रखा है जबकि योग मानव के मन का विशाल ज्ञान है. योग को भारत ही नहीं पूरी दुनिया में लागु करना चाहिए . प्राणायाम योग का पार्ट है योग अस्टांग योग का ही होनी चाहिए सिर्फ हट्ठ योग शासन योग नहीं है यह एनालिसिस अधूरा और कन्फुसिंग है योग का रिलिजन से कोई नाता नहीं है योग एक सनातन धर्म मन को साधने का है जय भारत
X REPORT ABUSE Date 24-06-19 (09:09 PM)