मुकेश खन्ना ने भी किया TikTok का बहिष्कार, बताया- चाइनीज वायरस

पुनः संशोधित शुक्रवार, 22 मई 2020 (14:20 IST)
के कारण आम लोगों के साथ-साथ सेलेब्स भी घरों में कैद हैं और सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव है। लोग टिकटॉक, यूट्यूब, फेसबुक, इंस्टाग्राम और बाकी के प्लेटफॉर्म के बीच बंटे हुए हैं।
हाल ही में एक टिकटॉक स्टार फैजल सिद्दीकी के कथित तौर पर ‘एसिड अटैक’ को बढ़ावा देने वाले वीडियो के बाद सोशल मीडिया पर लोगों के बीच जंग छिड़ गई है। इसके बाद हर कोई इस एप और इस पर मौजूद कंटेंट को लेकर नाराजगी जाहिर कर रहा है। जिसके बाद टिकटॉक की रेटिंग में भी गिरावट देखने को मिली है।

अब इस विवाद में एक्टर मुकेश खन्ना भी कूद गए है। उन्होंने ने वीडियो शेयर कर बयान जारी किया है। उन्होंने टिकटॉक यूजर्स को लताड़ते हुए इस एप का बायकॉट करने की मांग की है। मुकेश खन्ना ने टिकटॉक को एक भयानक वायरस बताया है।
वीडियो में मुकेश कह रहे हैं कि दोस्तों और भी काम है जमाने में टिकटॉक के सिवा। कोरोना की इन बुरी खबरों के बीच और एक और जिसका नाम टिकटॉक है वह टिक टॉक करके हमसे दूर होता जा रहा है। उसकी रेंटिंग 4.5 से 1.3 पर आ गई है।
मुझे लगता है कि और भी लोग जो मेरी सलाह पर और बाकी लोगों की सलाह से टिकटॉक का बहिष्कार कर रहे हैं, इससे बढ़कर और खुशी की बात नहीं हो सकती। मैं तो कहता हूं कि चाइनीज प्रोडक्ट की लिस्ट में सबसे ऊपर आप टिकटॉक का नाम सबसे ऊपर रखिए और इसे दूर रखिए। और आज के यूथ को बिगड़ने से बचाइए।
मुकेश खन्ना ने इस इस वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा, 'टिकटॉक-टिकटॉक घड़ी में सुनना सुहावना लगता है लेकिन आज की युवा पीढ़ी का घर, मोहल्ले, सड़क, चौराहे पर चंद पलों का फेम पाने के लिए सुर-बेसुर में टिकटॉक करना बेहूदगी का पिटारा लगता है। कोरोना चायनीज वायरस है ये सब जान चुके हैं। टिकटॉक भी उसी बिरादरी का है ये भी जानना ज़रूरी है।'

टिकटॉक फालतू लोगों का काम है और ये उन्हें और भी फालतू बनाता चला जा रहा है। अश्लीलता, बेहूदगी, फूहड़ता घुसती चली जा रही है आज के युवाओं में इन बेकाबू बने वीडियोज के माध्यम से। इसका बंद होना ज़रूरी है। खुशी है मुझे कि इसे बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है मैं इस मुहिम के साथ हूं।





और भी पढ़ें :