iPhone 11 के ट्रिपल कैमरा तकनीक में नया क्या?

Last Updated: बुधवार, 11 सितम्बर 2019 (14:30 IST)
दुनिया में आर्थिक सुस्ती के बीच एप्पल कंपनी ने अपनी आईफ़ोन-11 सीरीज के iPhone, iPad और नई स्मार्ट वॉच को लॉन्च किया है। नए iPhone 11, Pro और iPhone 11 Pro Max फोन्स की ख़ासियत यह बताई गई है कि इनके कैमरे एक साथ कई तरह के फॉरमैट में वीडियो (स्लोमोशन सेल्फ़ी, लैंडस्केप सेल्फ़ी) रिकॉर्ड कर सकते हैं।
इसके अलावा इनमें टेलीफ़ोटो, अल्ट्रा वाइड और नया नाइट मोड भी है जिसकी मदद से कम रोशनी में भी इनके कैमरे उम्दा तस्वीरें खींच सकते हैं। इनका प्रोसेसर भी पहले के आईफ़ोन्स के मुक़ाबले बढ़िया लगाए गए हैं। यानी ये फ़ोन पहले से भी अधिक तेज़ी से काम करेंगे।

एप्पल के अनुसार इनकी बैटरी भी पहले के मुक़ाबले बेहतर है और लॉन्च किए गए आईफोन चार या पांच घंटे ज्यादा काम करेंगे। कैलिफोर्निया के कूपर्टीनो में हुए एक भव्य समारोह में ऐपल के सीईओ टीम कुक ने जब एक साथ तीन मोबाइल फ़ोन लॉन्च किए तो उन्होंने बताया कि ये कई खूबियों के साथ एकदम नए डिज़ाइन में उपलब्ध है।
इन तीन मॉडलों iPhone 11, 11 Pro, 11 Pro Max की कीमतें क्रमशः 699 अमेरिकी डॉलर (50,228 रुपए), 999 अमरीकी डॉलर (71,786 रुपए) और 1099 अमेरिकी डॉलर (78,971 रुपए) हैं।

ये फ़ोन वाटर प्रूफ और डस्‍ट रेसिस्‍टेंट हैं, यानी दावा है कि पानी और धूल से इनका कुछ नहीं बिगड़ेगा। प्रो में 5.8 इंच स्‍क्रीन है। आईफोन 11 प्रो मैक्‍स में 6.5 इंच की स्‍क्रीन है। दोनों मोबाइल में स्‍क्रीन रिजॉल्‍यूशन 458ppi है। डिस्‍प्‍ले को सुपर रेटिना का नाम दिया गया है।
ट्रिपल कैमरा तकनीक से नाइट मोड में भी बेहतर तस्वीरें
आईफ़ोन पहली बार ट्रिपल कैमरा तकनीक के साथ उतरा है। इनमें 12 मेगापिक्‍सल का वाइड एंगल कैमरा, एक 12 मेगापिक्‍सल का अल्‍ट्रा वाइड एंगल कैमरा और बेहतर जूम के लिए एक टेलीफ़ोटो कैमरा भी है।

वाइड एंगल तस्वीरें लेने की क्षमता की बदौलत अब ग्रुप सेल्फ़ी लेने में उतनी ही दूरी से यह कैमरा पहले से अधिक लोगों को कैप्चर कर सकेगा। इसके साथ ही iPhone 11 में iPhone XR से एक घंटे ज्यादा बैटरी बैकअप भी मिलेगा। आईफोन 11 में नाइट मोड और 60 फ्रेम प्रति सेकेंड की दर से वीडियो रिकॉर्ड की सुविधा भी है।
वैसे यह तकनीक नई नहीं है, क्योंकि भारतीय बाज़ार में Samsung A80 और Huawei P20 Pro जैसे मोबाइल फ़ोन में भी यह नाइट मोड तकनीक पहले से मौजूद है। नाइट मोड तकनीक में कैमरा बेहतर तस्वीरें खींचने की तकनीक मौजूद है।

iPhone 11 में पहले से तेज़ फेस आईडी दी गई है। वहीं इसके प्रो मॉडल में ट्रिपल रियर कैमरा और डीप फ़्यूजन कैमरा फीचर है। जिसका उपयोग लो लाइट में तस्वीरें खींचने में होगा।

ट्रिपल कैमरा तकनीक से और क्या क्या?
बीते कुछ वर्षों में मशीन लर्निंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के क्षेत्र में बहुत काम हुआ है, डुअल कैमरे की जगह अब कंपनियां अपने स्मार्टफ़ोन में ट्रिपल कैमरा तकनीक पर काम कर रही हैं। इस तकनीक की मदद से मोबाइल फ़ोन की क्षमता और उनका प्रदर्शन बढ़ जाता है।
हाई स्पीड मोनोक्रोम सेंसर और बेहतर लाइट सेंसिटिविटी तकनीक की मदद से ये ट्रिपल कैमरे कम रौशनी में भी साफ़ तस्वीरें खींच सकते हैं, वहीं वाइड एंगल तकनीक बैकग्राउंड की तुलना में फ़ोटो में चेहरे को हाईलाइट करने में बेहद उपयोगी होता है।

कुछ दिनों पहले ही सैमसंग भी अपने नए A80 मॉडल में इनफिनिटी डिस्प्ले और रोटेटिंग ट्रिपल कैमरा तकनीक के साथ आया था।


ट्रिपल कैमरा तकनीक में तीसरा कैमरा और अधिक ज़ूम करने में मददगार होता है। इसकी मदद से डुअल कैमरे की तुलना में दूर से खींची गई तस्वीर भी हाई रिजॉल्यूशन यानी प्रिंटिंग क्वालिटी की होती है। यानी ज़ूम करने पर भी तस्वीरें डुअल कैमरे के मुक़ाबले कम ब्लर होती हैं।
सबसे पहले हुवावे ट्रिपल कैमरा तकनीक के साथ आई थी। उसने अपने P20 प्रो मॉडल में इसे लगाया। इसके बाद कंपनी मेट 20, मेट 20 प्रो और मेट 20 एक्स मॉडल में भी ट्रिपल कैमरा ले कर आई।

सैमसंग भी ट्रिपल कैमरा के साथ बाज़ार में आ चुकी है। उसने गैलेक्सी एस10+, गैलेक्सी A80 जैसे मॉडल में ट्रिपल कैमरे लगाए हैं। इसके अलावा सोनी एक्सपीरिया 1, एलजी वी50 थिन, शियोमी एमआई9, वीवो वी15 प्रो, ओप्पो रेनो 10एक्स जूम, रेडमी के20 प्रो भी ट्रिपल कैमरे के साथ बाज़ार में उतर चुके हैं।
पुराने मॉडलों की कीमतें घटी
एप्पल ने इसके साथ ही आईफोन पर निर्भरता कम करने के लिए वीडियो सेवा, एप्पल टीवी+ और गेम सबक्रिप्शन सेवा लांच करने की तारीख़ भी तय कर दी है।

वहीं आईफ़ोन-11 के लॉन्च के साथ ही आईफ़ोन-8 की कीमत घटकर लगभग 32 हज़ार रुपये हो गई है जबकि आईफ़ोन एक्सआर की कीमत लगभग 43 हज़ार रुपये हो गई है।

नए मॉडल शुक्रवार यानी 13 सितंबर से प्री ऑर्डर किए जा सकते हैं जो 20 सितंबर से ग्राहकों को मिलने शुरू हो जाएंगे।

और भी पढ़ें :