test header

भारतीय संस्कृति को कभी नहीं भूल सकते

खरगोन | Naidunia| पुनः संशोधित सोमवार, 21 नवंबर 2011 (01:03 IST)
इंग्लैंड की गैर सरकारी संस्था लेप्रा सोसायटी की चार महिला सदस्यों के साइकल दल का ग्रामीणों ने झिरन्या क्षेत्र में निमाड़ी अंदाज में भावभीना स्वागत किया। यह सब देखकर उन्होंने कहा कि हम भारत और उसकी संस्कृति को कभी नहीं भूल सकते। बालिकाओं ने तिलक लगाकर उनकी आरती उतारी और पुष्पहारों से स्वागत किया। दल में सान्द्रा हार्न, लीज केनेडी, सीलिया रिचर्ड्सन और इलिया स्टॉइन थीं। वे 15 नवंबर को इन्दौर से 583 किमी की साइकल यात्रा के लिए निकली हैं और 24 नवम्बर को वापस इन्दौर पहुॅंचेगी। वे अपनी इस यात्रा में टीबी, एचआईवी और कुष्ठ से बचाव और ऐसे रोगियों से प्रेम एवं सद्भावनावूर्वक व्यवहार रखने के ग्रामीणों को जागरूक कर रही हैं। उन्होंने खंडवा जिले के पंधाना एवं दीवाल होकर इस तहसील के पिछोड़िया गाँव में प्रवेश किया। उन्होंने गा्रम रतनपुर, झिरन्या होकर वनग्राम चिरीया में रात्रि विश्राम किया। उन्होंने इस दौरान नुक्कड़ नाटक की आकर्षक प्रस्तुति देकर ग्राीणों को जागरूक किया।


और भी पढ़ें :