शेयर बाजार में गिरावट जारी

मुंबई (भाषा)| भाषा|
विदेशी निधियों के भारतीय शेयर बाजारों से हाथ खींच लिए जाने के कारण इनमें पिछले हफ्ते भी जारी रही। सात मार्च को समाप्त कारोबारी सप्ताह में बीएसई का सेंसेक्स 6.36 प्रतिशत गिरावट के साथ बंद हुआ जो तीन साल का सबसे निचला साप्ताहिक बंद स्तर है।

कारोबारियों का कहना है कि भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा नीतिगत दरों में कटौती तथा मुद्रास्फीति में निरंतर कमी का कोई असर निवेशकों पर नहीं दिखा। इसके विपरीत विदेशी निधियों की बिकवाली, वैश्विक मंदी के गहराने तथा डॉलर की तुलना में रुपए में कमजोरी ने बाजार धारणा को और कमजोर किया।

विश्लेषकों का कहना है कि इस समय बाजार में नकारात्मक कारक अधिक प्रभावी हैं और बाजार इनसे अगले सप्ताह भी उबर पाएगा इसकी संभावना नजर नहीं आती।
बीएसई का तीस शेयर आधारित सेंसेक्स आलोच्य सप्ताह में 8762.88 और 8047.17 के दायरे में रहने के बाद अंत में 565.79 अंक की गिरावट के साथ 8325.82 पर बंद हुआ। सेंसेक्स में इससे पहले नवंबर 2005 में ही यह साप्ताहिक बंद स्तर देखने को मिला था।

नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 143.50 अंक की गिरावट दर्शाता हुआ सप्ताहांत 2620.15 पर बंद हुआ।
कारोबारियों का कहना है कि देश के निर्यात में लगातार चौथी मासिक गिरावट का असर निवेशकों पर रहा। भारत का निर्यात जनवरी में 15.59 प्रतिशत घटा। इसी तरह इस वित्तवर्ष में आयात के पहली बार नकारात्मक रहने का असर भी बाजार पर दिखा।

अगले सप्ताह दस मार्च को ईद-ए-मिलाद तथा 11 मार्च को होली के मौके पर बाजार बंद रहेगा।



और भी पढ़ें :