अनुपम खेर : देश में बहुत भ्रष्टाचार बढ़ गया है

उज्जैन| वार्ता| पुनः संशोधित रविवार, 25 नवंबर 2012 (18:52 IST)
FILE
प्रसिद्ध रंगकर्मी एवं अभिनेता ने रविवार को यहां कहा कि बहुत बढ़ गया है और ऐसे दौर में हिन्दू की बात करें तो आप राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के हैं। यदि भ्रष्टाचार के आंदोलन से जुड़ते हैं तो आप भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के हैं तथा ईमानदारी की बात करें तो लोग खोखला कहते हैं।

खेर ने यहां प्रेस क्लब में मीडियाकर्मियो से चर्चा में भ्रष्टाचार पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि 'भ्रष्टाचार हटाओ' जैसे आंदोलन से नहीं जुड़ने व उसका जिक्र नहीं करने पर जिंदगी उन्हें कचोटने लगती है।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार जैसे आंदोलन को रोकना एक कायरता है। अनुपम ने कहा कि हम अच्छे हैं, बुरे को ठीक करना भी जरूरी है।
खेर ने कहा कि इसलिए वे सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे, अरविंद केजरीवाल व योग गुरु बाबा रामदेव द्वारा देश में भ्रष्टाचार के विरोध में चलाए गए आंदोलन में शामिल हुए हैं लेकिन उनकी हर बात पर सफाई देना जरूरी नहीं है। यदि सरकार अच्छा काम करती है तो उसकी सराहना भी करना चाहिए।

बाबा के कथन कि 'विदेशी आतंकवादी कसाब को जिस तरह फांसी दी गई और उसे सरकार ने हीरो बना दिया' के सवाल के जवाब खेर ने कहा कि कानून अपना काम करता है। हां, देश में भ्रष्टाचार इतना बढ़ा है कि उसके बारे में सोचना पड़ेगा।
क्रिकेट मैचों के दौरान चीयर गर्ल्स के प्रदर्शन को लेकर पूछे गए प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि सभी चीजों का व्यवसायीकरण हो चुका है, यह फैशन हो गया है।

केजरीवाल द्वारा बनाई गई नई पार्टी के संबंध में पूछे जाने पर खेर ने कहा कि अब उनको वो काम करना चाहिए, जो अब तक वे कहते रहे हैं। यह नहीं कि हम साफ-सुथरे हैं और दूसरों की त्रुटि निकालना चाहिए। अब यह दौर आ चुका है कि साफ-सुथरे रहते हुए उनको काम करके बताना होगा।
उन्होंने लोकपाल बिल में सीबीआई को शामिल करने की मांग को जायज बताया। उन्होंने कहा कि हर चीज में बदलाव होना जरूरी है, लेकिन लोकपाल बिल पास होना चाहिए। (वार्ता)

 

और भी पढ़ें :