विपक्ष ने प्रधानमंत्री को घेरा

भ्रष्टाचार के मुद्दे पर अपना पल्ला नहीं झाड़ सकते

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 24 फ़रवरी 2011 (17:17 IST)
हमें फॉलो करें
बढ़ती महँगाई और भ्रष्टाचार पर काबू पाने में सरकार के पूरी तरह से विफल रहने का आरोप लगाते हुए भाजपा एवं वाम दलों ने आज कहा कि प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह इस मामले में अपनी जिम्मेदारी से पल्ला नहीं झाड़ सकते और उन्हें देश को जवाब देना पड़ेगा।


राष्ट्रपति के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर राज्यसभा में चर्चा में भाग लेते हुए भाजपा के डॉ. ज्ञानप्रकाश पिलानिया ने कहा कि संप्रग सरकार ने आम आदमी को महँगाई का तोहफा दिया है। महँगाई के कारण आम आदमी की थाली से अब प्याज और दाल भी गायब हो गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार की गलत नीतियों के कारण आम आदमी को रोजी रोटी के भी लाले पड़ गए हैं।
पिलानिया ने सरकार पर आवश्यक निर्णयों को टालने का आरोप लगाते हुए कहा कि आज तेलंगाना जल रहा है। यदि सरकार उचित समय पर निर्णय कर लेती तो तेलंगाना के मुद्दे पर आज जैसे हालात पैदा नहीं होते।


प्रधानमंत्री मनमोहन द्वारा टेलीविजन पत्रकारों से हाल में की गयी बातचीत का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने उस समय जो कुछ कहा, उससे बेहद दुखद और निराशाजनक तस्वीर पेश हुई। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार ऐसा हुआ कि हमारे प्रधानमंत्री बेहद असहाय नजर आए।

पिलानिया ने कहा कि गठबंधन की मजबूरी का हवाला देकर प्रधानमंत्री अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकते। उन्हें भ्रष्टाचार के मुद्दों पर देश को जवाब देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि और तो और उच्चतम न्यायालय ने भी एक मंत्री के खिलाफ टिप्पणी की थी। (भाषा)



और भी पढ़ें :