नितिन गडकरी : एमजी वैद्य का बयान दुर्भाग्यपूर्ण

नई दिल्ली| भाषा| पुनः संशोधित सोमवार, 12 नवंबर 2012 (17:55 IST)
FILE
भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ नेता के इस दावे को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए सोमवार को खारित कर दिया, जिसमें कहा गया है कि उन्हें पार्टी के अध्यक्ष पद से हटाए जाने की कुछ लोगों द्वारा चलाई जा रही मुहिम के पीछे गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी का हाथ है।

गडकरी ने यहां जारी बयान में पार्टी नेताओं के बीच पूरी एकता का दावा करते हुए पार्टी सांसद राम जेठमलानी द्वारा उनके विरुद्ध चलाई जा रही मुहिम से मोदी को जोड़ने के वैद्य के प्रयास को आधारहीन बताया। उद्गार

अपने बयान में उन्होंने कहा, भाजपा ऐसी अटकलों को पूरी तरह अस्वीकार करती है, क्योंकि ये आधारहीन हैं। पार्टी को विश्वास है कि वह गुजरात विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत दर्ज करेगी। उन्होंने मोदी को ऐसा कुछ करने के आरोपों से बरी करते हुए कहा, हमारे सभी नेता और मुख्यमंत्री पार्टी के लिए एकजुट होकर काम कर रहे हैं। भाजपा पूरी तरह से नरेन्द्र मोदी के साथ है।
वैद्य ने रविवार को अपने ब्‍लॉग में लिखा है, नितिन गडकरी के विरुद्ध मुहिम की जड़ गुजरात में होनी चाहिए, क्योंकि जिन राम जेठमलानी ने गडकरी के इस्तीफे की मांग की, उन्होंने नरेन्द्र मोदी को भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किए जाने की भी वकालत की है।

बाद में वैद्य ने स्पष्टीकरण दिया, चूंकि जेठमलानी ने अपने बयान में गडकरी को पद से हटाने और मोदी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने की मांग एक ही बयान में कही थी, इसलिए मैंने कहा कि संदेह की सुई गुजरात की ओर जाती है।
उधर संघ ने वैद्य के बयान से अपने को अलग करते हुए कहा कि ये उनके व्यक्तिगत विचार हैं और संघ का उससे कुछ लेना-देना नहीं है। (भाषा)

 

और भी पढ़ें :