ओबामा का बयान आउटसोर्सिंग से संबंधित नहीं

बेंगलुरु (भाषा)| भाषा|
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के बेंगलुरु-बफैलो बयान से इतर ने कहा कि इस बयान का आउटसोर्सिंग या भारत के साथ कोई लेना-देना नहीं है।

आईटी उद्योग के संगठन नासकाम के अध्यक्ष सोम मित्तल ने कहा कि मुझे लगता है कि यह भारत का मुद्दा नहीं है, बल्कि अमेरिकी कंपनियों का स्वरूप कैसा है और अमेरिका ने कराधान प्रणाली को लागू किया, इस पर गौर करने की जरूरत है।

मित्तल ने कहा इसका भारत से कोई लेन-देना नहीं है। राष्ट्रपति ने कहा है कि उन्हें मिलने वाले अतिरिक्त करों का अनुसंधान प्रशिक्षण और रोजगार सृजन में निवेश किया जाएगा।
उन्होंने कहा मेरा मानना है कि रोजगार सृजन के कदम का स्वागत किया जाना चाहिए। मित्तल ने कहा हमारा आईटी उद्योग वास्तव में समाधान का एक हिस्सा है जिसकी अमेरिकी कंपनियों को प्रतिस्पर्धी बने रहने के लिए जरूरत है।



और भी पढ़ें :