दो हजार साल पुरानी कलाकृतियां जब्त

इस्लामाबाद| भाषा|
FILE
ने बौद्ध सभ्यता से जुड़ी गंधार कला की दो हजार साल पुरानी कलाकृतियां और पुरावशेष किए हैं और दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया, जो कथित तौर पर इन सामान को देश से बाहर ले जाने की फिराक में थे। इनकी कीमत करोड़ों में बताई गई है।

कराची शहर में पुलिस ने पिछले 24 घंटे में दो बड़े छापों में करोड़ों रुपए मूल्य के इन पुरावशेषों को जब्त किया। इन निशानियों में भगवान बुद्ध की 10 प्रतिमाएं हैं। पुलिस का कहना है कि लापरवाही और सही ढंग से देखभाल नहीं करने के कारण कुछ कलाकृतियां क्षतिग्रस्त भी हो गई हैं।

पुलिस ने पहले एक सूचना पर शुक्रवार को कोरंगी की अवामी कॉलोनी में एक कंटेनर को रोका, वहीं शनिवार को कोरंगी के एक आवासीय इलाके के गोदाम में छापा मारा।
पख्तूनख्वा गंधार सभ्यता का केंद्र हुआ करता था। इस प्रांत की सरकार ने मांग की है कि कराची पुलिस सभी निशानियां उसे सौंप दे।

पाकिस्तान की पेशावर घाटी और अफगानिस्तान का पूर्वी हिस्सा गंधार सभ्यता के मुख्य केंद्र थे। अधिकारियों का कहना है कि इन कलाकृतियां को कानून संरक्षण किया जाना सरकार की जिम्मेदारी है। (भाषा)



और भी पढ़ें :