मारुति कार डीलर ग्राहकों से बरतें पारदर्शिताः उपभोक्ता अदालत

नई दिल्ली| Naidunia| पुनः संशोधित मंगलवार, 27 मार्च 2012 (01:24 IST)
मारुति कार डीलर द्वारा ग्राहकों से अन्य चार्जेज के नाम पर ज्यादा पैसा ऐंठने की सुनवाई करते हुए उपभोक्ता अदालत ने पारदर्शिता बरतने को कहा है। जिला उपभोक्ता फोरम ने मारुति सुजुकी इंडिया लि. के मुख्य कार्यकारी अधिकारी को आदेश दिया है कि वह अपने सभी डीलरों को अन्य चार्जेज का पूरा ब्यौरा देने को कहें ताकि कंपनी की छवि खराब न हो। और अनावश्यक कानूनी पचड़े से भी बचा जा सकता है। मामले की शिकायत उत्तर-पूर्वी दिल्ली में रहने वाले मोहन सिंह ने की थी। उसके अनुसार कार खरीदने पर उससे अन्य चार्जेज के नाम पर 54,500 रुपए लिए गए। लेकिन जब इसकी जानकारी मांगी गई तो उसे कोई जवाब नहीं दिया गया। उसने टीआर साहणे मोटर्स प्रालि. से कार खरीदी थी। सहाणे ने अदालत में कहा कि उनकी कार में सीएनजी किट लगाने और पेपरवर्क के पैसे लिए गए थे। अदालत ने उनकी दलील मान ली, लेकिन कहा कि इस तरह से डीलर के प्रति खास अवधारणा बन जाती है। पारदर्शिता नहीं बरतने से कंपनी की छवि को नुकसान पहुंचता है।

और भी पढ़ें : मारुति उपभोक्ता