भाजपा में खूब चली रिश्तेदारी, नेताओं की बीवियों ने बाजी मारी

नई दिल्ली| Naidunia| पुनः संशोधित मंगलवार, 27 मार्च 2012 (01:25 IST)
'जो कहते हैं, सो करते हैं' का दावा करने वाले भाजपा नेता नगर निगम चुनाव के मामले में अपने ही दावों से पीछे हट गए। टिकटों के बंटवारे में नेताओं की बीवियों ने बाजी मारी है। 62 पार्षद और दूसरे नेता अपनी ऐसी पत्नियों और बहुओं को टिकट दिलवाने में कामयाब रहे जो पार्टी के धरना-प्रदर्शनों या दूसरे कार्यक्रमों में कभी शामिल ही नहीं हुईं।


प्रदेश अध्यक्ष विजेंद्र गुप्ता अपनी पत्नी शोभा गुप्ता को राहिणी सेंट्रल से टिकट दिलाने में कामयाब रहे। वहीं जहांगीरपुरी से निगम पार्षद रमेश चौहान की पत्नी सत्यवती चौहान, बख्तावरपुर से अजीत सिंह की पत्नी उषा रानी, बेगमपुर से पार्षद जयभगवान की बहू जगरोशनी, नागलोई से पार्षद मोहन सिंह की पत्नी पार्वती, निठारी से पार्षद रोहताश की पत्नी निर्मला, शालीमार बाग साथ से राजेश्वर नागपाल की पत्नी ममता नागपाल, अशोक विहार से पार्षद सुरेश भारद्वाज की पत्नी पूनम भारद्वाज, डिप्टीगंज से पार्षद प्रवीन जैन की पत्नी पिंकी जैन, चांदनी चौक से हरिओम गुप्ता की पत्नी सुलेखा गुप्ता, ईदगाह रोड से श्यामलाल मोरवाल की पत्नी वीना मोरवाल, कसाबपुरा वार्ड से पार्षद इमरान इस्माइल की पत्नी हूर बानो, कर्मपुरा वार्ड से हाल ही में भाजपा में शामिल हुए गुरचरण सिंह शंटी की पत्नी सुरेंद्र कौर, टेगौर गार्डन से पार्षद देवेंद्र कात्याल की पत्नी मीनू कात्याल, उत्तम नगर से पार्षद जेपी शर्मा की बहू शिवाली शर्मा, लाडो सराय से योगेंद्र ंिसह सेजवाल की पत्नी राजरानी सेजवाल, चिराग दिल्ली से पार्षद राकेश गुलैया की पत्नी सुनीता गुलैया, पुल प्रहलादपुर से पार्षद राजपाल की पत्नी रेखा पोसवाल, सरिता विहार से ब्रह्म प्रकाश की बहू निशा विधूड़ी, राजा गार्डन से जिला पदाधिकारी अनंत त्यागी की पत्नी सुमन त्यागी, तिलक नगर से जिला महामंत्री कमल वोहरा की पत्नी रितु वोहरा, डाबरी से मंडल पदाधिकारी विनय चौहान की पत्नी रेखा के लिए टिकट पाने में कामयाब रहे।

और भी पढ़ें : भाजपा रिश्तेदारी