मकरासन से भगाएं दमा और कब्ज

WD|
की गिनती पेट के बल लेटकर किए जाने वाले आसनों में की जाती है। इस आसन की अंतिम अवस्था में हमारे शरीर की आकृति मगर की तरह प्रतीत होती है इसीलिए इसे मकरासन कहते है। इससे साँस की गति की रुकावट समाप्त होकर शांति महसूस होती है। इससे सांस की गति की रुकावट समाप्त हो होकर शांति महसूस होती है।
 
>  
सावधानी : दोनों पैरों में इतना अंतर रखते हैं कि भूमि को स्पर्श करें। सीना भूमि से उठा हुआ रखते हैं। दोनों हाथों की कैंची जैसी आकृति बनाने के बाद ही सिर को बीच में रखते हैं। श्वास-प्रश्वास स्वाभाविक अवस्था हो। 
 
लाभ : मकरासन आरामदायक आसनों के अंतरगत आता है जब भी पेट के बल लेटकर यह आसन किया जाता है श्वास-प्रश्वास की गति बढ़ जाती है, उस श्वास-प्रश्वास की दृष्‍टि स्वाभाविक अवस्था में लाने के लिए मकरासन का अभ्यास किया जाता है।  >  
 
इस आसन के अभ्यास से समस्त कशेरुकाओं, मांसपेशियों को आराम मिलता है। शरीर में रक्त प्रवाह सुचारु रूप से होने लगता है जिससे वे हमेशा स्वस्थ और निरोगी रहते है। 

 
इस आसन की स्थिति में फेफड़े फैलते हैं जिससे इनके अंदर प्राणवायु अधिक मात्रा में अंदर जाती है तथा दूषित वायु बाहर निकलती है। इसलिए दमा रोग निवारण में भी सहायता मिलती है। इस आसन में शवासन के भी लाभ प्राप्त होते है। इस आसान से आंतों में हल्का से खिंचाव महसूस होगा जिससे आंतों की हरकत बढ़ जाती है और कब्ज दूर होगा।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

इन 7 बातों का रखेंगे ध्यान तो कैंसर से बचे रहेंगे आप

इन 7 बातों का रखेंगे ध्यान तो कैंसर से बचे रहेंगे आप
कैंसर कितनी खतरनाक बीमारी है इस पर जितना कहा जाए कम है। यह एक मरीज़ के शरीर, दिमाग और ...

इन 5 चीजों में भी होता है कैल्शियम, बढ़ती उम्र की परेशानी ...

इन 5 चीजों में भी होता है कैल्शियम, बढ़ती उम्र की परेशानी से बचें, इन्हें अपनाएं
आप यंग हैं तो आपको हड्डियों की समस्याओं का शायद सामना नहीं करना पड़ रहा है, लेकिन कहीं ...

ये 5 सब्जियां आपको बनाएंगी खूबसूरत और जवां

ये 5 सब्जियां आपको बनाएंगी खूबसूरत और जवां
खूबसूरत और जवां दिखना कौन नहीं चाहता! इसी चाहत में लोग अपनी अंदरुनी सेहत का तो ध्यान रखते ...

घर में बच्चों के साथ होने वाली दुर्घटनाओं को रोकने के लिए ...

घर में बच्चों के साथ होने वाली दुर्घटनाओं को रोकने के लिए उठाएं ये 14 कदम
बच्चे जब पांच साल से कम उम्र के होते हैं, तब वे घर में ही कई तरह की दुर्घटनाओं के शिकार ...

स्थानांतरण पर कविता : घर

स्थानांतरण पर कविता : घर
जिसे संवारा था तिनके-तिनके उजाड़ रही हूं अपने हाथों जानती हूं इतने बरसों का जमा बहुत कुछ ...

सिर की जुएं भगाना है? जैतून का तेल लगाएं...

सिर की जुएं भगाना है? जैतून का तेल लगाएं...
चाहे बाल बाहर से कितने ही मखमली, मुलायन क्यों न लगते हों, लेकिन यदि आपके सिर में किसी वजह ...

मां दुर्गा को सबसे प्रिय हैं ये 4 सरल मंत्र, चारों दिशाओं ...

मां दुर्गा को सबसे प्रिय हैं ये 4 सरल मंत्र, चारों दिशाओं से मिलेगी सफलता
मां दुर्गा के स्वरूपों का स्मरण करते हुए निम्न मंत्रों का जप नवरा‍त्रि के अलावा प्रतिदिन ...

देवशयनी एकादशी 2018 : 23 जुलाई से नहीं हो सकेंगे शुभ ...

देवशयनी एकादशी 2018 : 23 जुलाई से नहीं हो सकेंगे शुभ मांगलिक कार्य, जानिए महत्व भी...
आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की ग्यारहवीं (ग्यारस) तिथि को देवशयनी एकादशी मनाई जाती है। इस वर्ष ...

क्या आप जानते हैं कैसे करें दुर्गासप्तशती का पाठ, पढ़ें ...

क्या आप जानते हैं कैसे करें दुर्गासप्तशती का पाठ, पढ़ें प्रामाणिक विधि
नवरात्रि में दुर्गासप्तशती का पाठ करना अनन्त पुण्य फलदायक माना गया है। 'दुर्गासप्तशती' के ...

16 जुलाई से कर्क में सूर्य, जानिए किस राशि के लिए शुभ, ...

16 जुलाई से कर्क में सूर्य, जानिए किस राशि के लिए शुभ, किसके लिए अशुभ
सोमवार, 16 जुलाई 2018 को सूर्य 22.42 बजे कर्क राशि में गोचर भ्रमण करेगा और 17 अगस्त 2018 ...