लड़कियों के लिए आसान बचत उपाय


लड़कियां और शॉपिंग एक दूसरे के पूरक माने जाते हैं। नतीजा जरूर से ज्यादा खर्च। अगर ज्यादा खर्चे की बात हो तो लड़कियों को लड़कों के मुकाबले अधिक खर्चीला माना जाता है। क्या आप नहीं चाहेंगी ऐसे कि आपके पास भी पैसा बचे? जानिए उपाय जिनसे आपकी भी जाए बचत...  >
 
 
1. अपने सामान पर डालें नजर : कहीं जाने का समय है और आपको लग रहा है आपके पास पहनने के लिए कुछ भी नहीं। अलमारी में से कपड़े बाहर आ चुके हैं और पलंग पर पड़े ढेर में आपको कुछ अच्छा नजर नहीं आ रहा है। यह आपकी नहीं लगभग सभी की कहानी है। नतीजा है कि आप शॉपिंग के लिए फिर तैयार हैं, लेकिन रूकिए आप फिर से कपडों पर ठीक से नजर डालें। इस बार आपको कुछ कपड़े ऐसे नजर आएगें जो निश्चिततौर पर आपको शॉपिंग वाली फील देने के लिए तैयार हैं। 
 
जरूरत सिर्फ इतनी है कि आप इनके सही जोड़े बनाएं। जैसे आप अब तक कपड़े पहनते आई हैं उससे कुछ हटकर मैच करें। देखिए आपकी नई ड्रेस तैयार हैं। इस पर एक्सेसरीज़ बदलकर आप बिल्कुल अलग नजर आएंगी। तो शॉपिंग का प्लान छोड़े और तैयार होने जाएं। आप शॉपिंग के लिए तय पैसे को संभालकर रखें। आपकी हो चुकी है। 
 
2. जाने के पहले पैसा तय कर लें : आप जब भी बाहर निकलती हैं, मामला चाहे शॉपिंग का है या घूमने का, एक निश्चित पैसा तय कर लें। कोशिश करें कि आपका इस बार खर्च इस पैसे के आसपास ही हो। इसे बढ़ने देने से बचें। आपने फिर से बचत कर ली है। 
 
3. खाना साथ में रखें : आप लगभग रोज़ ही बाहर कुछ न कुछ खाती हैं। बाहर का खाना कितना महंगा पड़ता है इससे आप वाकिफ हैं। अपना खाना साथ लेकर जाएं। इससे आपकी फिटनेस, हेल्थ भी बनी रहेगी और पैसा भी बचेगा। 
 
4. घर पर एक्ससाइज़ करें : हम कभी भी आपको जिम न जाने की सलाह नहीं देंगे, परंतु अगर आप उन लोगों में शामिल हैं तो महीने में कम से कम 15 दिन जिम नहीं जाते हैं तो यह पैसा बर्बाद हो रहा है। ऐसे में घर में ही एक्ससाइज की आदत डालें। आपकी बचत होगी। जिम जाना तभी शुरू करें जब आप रेगूलर रहना चाहती हैं। 
 
5. डेबिट कार्ड का उपयोग करें : डेबिट कार्ड से आपका खर्च पर कंट्रोल रहता है, वहीं क्रेडिट कार्ड में अधिक खर्च की संभावना भरपूर रहती है। क्रेडिट कार्ड से अधिक खर्च करने पर आपको उधारी चुकानी भी है, इसलिए डेबिट कार्ड से खर्च करने पर ध्यान दें। आपकी बचत होगी। 
 
6. बाहर जाना दोस्तों के साथ प्लान करें : ऐसे मौकों को भुनाएं जब आप बहुत से दोस्तों के साथ बाहर जा सकें। ऐसे में आपके हर खर्च का भार सभी पर बराबर आता है। साथ ही खाने का सामान भी ज़ाया नहीं होता और बहुत सी वैराइटी का माज़ा ले सकते हैं। 
 
7. अपने सामान को संभाल कर रखें : आप के पास कई बैग, कपड़े, एक्सेसरीज़ हैं परंतु जब काम पडता है उनमें सल पड़े हैं या कुछ गंदे से लग रहे हैं। आपको लगता है आपके पास ऐन टाइम पर कुछ भी अच्छा नहीं। आपका जितना सामान है उसे करीने से रखने की आदत डालें। आपको यह चीज़े लंबे समय तक शॉपिंग पर जाने से बचाएगीं।  
 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

दुर्घटनाएं अमावस्या और पूर्णिमा पर ही क्यों होती है? आइए ...

दुर्घटनाएं अमावस्या और पूर्णिमा पर ही क्यों होती है? आइए जानते हैं यह रहस्य-
पूर्णिमा के दिन मोहक दिखने वाला और अमावस्या पर रात में छुप जाने वाला चांद अनिष्टकारी होता ...

क्या आपका बच्चा भी अंगूठा चूसता है? तो हो जाएं सावधान, जान ...

क्या आपका बच्चा भी अंगूठा चूसता है? तो हो जाएं सावधान, जान लें नुकसान
शायद ऐसा कोई व्यक्ति नहीं होगा, जिसने किसी बच्चे को अंगूठा चूसते हुए कभी न देखा हो। अक्सर ...

यही है वह मौसम जब शरीर का बदलता है तापमान, रहें सावधान, ...

यही है वह मौसम जब शरीर का बदलता है तापमान, रहें सावधान, जानें वजह और बचाव के उपाय
मौसम आ गया है कि आपको चाहे जब लगेगा हल्का बुखार। तो क्या घबराने की कोई बात है? जी नहीं, ...

प्रेशर कुकर में नहीं कड़ाही में पकाएं खाना, जानिए क्यों...

प्रेशर कुकर में नहीं कड़ाही में पकाएं खाना, जानिए क्यों...
अगर आप से पूछा जाए कि प्रेशर कुकर में या कड़ाही खाना बनाना बेहतर है तो आप तुरंत प्रेशर ...

मलाईदार नारियल क्रश, सेहत के यह 8 फायदे पढ़कर रह जाएंगे दंग

मलाईदार नारियल क्रश, सेहत के यह 8 फायदे पढ़कर रह जाएंगे दंग
आजकल मार्केट में नारियल पानी से ज्यादा नारियल क्रश को पसंद किया जा रहा है। इसकी बड़ी वजह ...

खतरे में है भारत की सांस्कृतिक अखंडता और विरासत

खतरे में है भारत की सांस्कृतिक अखंडता और विरासत
भारत देश एक बहु-सांस्कृतिक परिदृश्य के साथ बना एक ऐसा राष्ट्र है जो दो महान नदी ...

'समग्र' के सलाहकार मंडल में शामिल हुए रूसेन कुमार

'समग्र' के सलाहकार मंडल में शामिल हुए रूसेन कुमार
स्वच्छता क्षेत्र के अग्रणी संगठन- समग्र सशक्तिकरण फाउंडेशन ने इंडिया सीएसआर नेटवर्क के ...

कितने सीजेरियन या सी-सेक्शन झेल सकती है एक मां?

कितने सीजेरियन या सी-सेक्शन झेल सकती है एक मां?
अब जमाना ऐसा है कि आप चाहकर भी सी-सेक्शन से बच नहीं पाते। कभी जटिल परिस्थितियां और कभी नई ...

जल्दी वजन कम करना है तो ये 5 फल खाना कर दें शुरू

जल्दी वजन कम करना है तो ये 5 फल खाना कर दें शुरू
क्या बढ़ा हुआ वजन आपकी भी समस्या बन चुका है? हर वक्त आपके मन में चलता रहता है कि कैसे इस ...

क्या आपको भी आ रही है लड़कों जैसी 'दाढ़ी-मूंछ', तो करें ये ...

क्या आपको भी आ रही है लड़कों जैसी 'दाढ़ी-मूंछ', तो करें ये उपाय
चेहरे पर कील-मुंहासे व दाग-धब्बे जितने खराब लगते हैं, उतने ही छोटे-छोटे बालों का चेहरे पर ...