बजट 2018 : गरीबों को मुफ्त मिलेंगे मुफ्त घर और गैस

नई दिल्ली| पुनः संशोधित गुरुवार, 1 फ़रवरी 2018 (12:31 IST)
नई दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपने आखिरी पूर्ण बजट में मध्यम वर्ग और गरीबों के लिए कई बड़े ऐलान किए हैं। वित्त मंत्री ने बताया कि उज्ज्वला योजना के तहत सरकार ने 5 करोड़ गरीब महिलों तक मुफ्त पहुंचाने का लक्ष्य रखा था। इस योजना की लोकप्रियता को देखते हुए इस लक्ष्य को बढ़ाकर 8 करोड़ गरीब महिलाओं को मुफ्त कनेक्शन पहुंचाने का लक्ष्य रखा है।

अरुण जेटली ने कहा कि बिजली चले जाने पर लोग परेशान होते हैं। इस बात को देखते हुए सरकार ने प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना की शुरूआत का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत 16 हजार करोड़ रुपये की लागत से 4 करोड़ परिवारों तक बिजली पहुंचाई जाएगी। वित्तमंत्री ने अपने बजट में आवास को लेकर भी बड़ा ऐलान किया।

जेटली ने कहा कि उनकी सरकार का लक्ष्य 2022 तक हर गरीब को घर देने का लक्ष्य है। उन्होंने बताया कि इसके तहत उनकी सरकार ने शहरी क्षेत्रों में 37 लाख मकान बनाने की योजना को मंजूरी दे दी है। इसके अलावा नए वित्त वर्ष सरकार ने 2 करोड़ शौचालय बनाने का ऐलान किया है। साथ ही खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय के लिए आवंटन राशि को दोगुना करने की बात भी कही। साथ ही किसानों के लिए बड़ी योजना का ऐलान करते हुए उन्होंने कहा कि कृषि उत्पादों के निर्यात को 100 अरब डॉलर के स्तर तक पहुंचाने का लक्ष्य भी उनकी सरकार ने रखा है।


और भी पढ़ें :