अरुण जेटली ने पांच प्रतिशत बढ़ाया रेलवे बजट

पुनः संशोधित गुरुवार, 1 फ़रवरी 2018 (13:20 IST)
नई दिल्ली। रेलवे में सुरक्षा को मजबूत करने और यात्रियों की सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए सरकार ने वित्त वर्ष 2018-19 के लिए बजट आवंटन 5 प्रतिशत बढ़ाकर 1 लाख 48 हजार 528 करोड़ रुपए करने की घोषणा की है।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संसद में आम बजट पेश करते हुए बताया कि 12 हजार नए वैगन खरीदे जा रहे हैं। इसके अलावा यात्रियों की सुविधा के लिए 31 60 कोच और 700 इंजन भी खरीदे जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि वित्त वर्ष 2017-18 में रेलवे का पूंजीगत व्यय एक लाख 41 हजार करोड़ रुपए तथा वित्त वर्ष 2016-17 में एक लाख 31 हजार करोड़ रुपए था।

जेटली ने बजट भाषण में रेलवे में पूंजीगत व्यय के लिए एक लाख 48 हजार 528 करोड़ रुपए का आवंटन करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि रेलवे की संरक्षा एवं सुरक्षा को उच्च प्राथमिकता दी जाएगी और दो साल में 4267 मानवरहित रेलवे क्रॉसिंग को खत्म की जाएगी।

उन्होंने चालू वित्त वर्ष में 3600 किलोमीटर ट्रैक के नवीकरण करने की जानकारी दी तथा कहा कि मुंबई में उपनगरीय रेलसेवा में सुधार के लिये 90 किलोमीटर के दोहरीकरण के लिए 11 हजार करोड़ रुपए और 1600 किलोमीटर मार्ग के उन्नयन एवं ऐलिवेटेड कॉरीडोर के लिये 40 हजार करोड़ रुपए का आवंटन का प्रस्ताव किया गया है।

उन्होंने बेंगलुरू उप नगरीय रेल सेवा के उन्नयन के लिए 1700 करोड रूपये की योजना का भी प्रस्ताव किया। वित्त मंत्री ने सभी रेलगाड़ियों एवं रेलवे स्टेशनों को वाई फाई युक्त बनाने, 25 हजार यात्रियों के आवागमन वाले रेलवे स्टेशनों पर स्वचालित सीढियां लगाने तथा 600 रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास करने की भी घोषणा की।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :