IS कमांडर ने लड़के का रेप किया फिर समलैंगिक होने के आरोप में छत से फेंका...

WD| Last Updated: सोमवार, 4 जनवरी 2016 (14:01 IST)
Widgets Magazine
इस्‍लामिक स्‍टेट के आतंकियों ने सीरिया में 15 साल के एक लड़के को होने के आरोप में छत से फेंक कर मौत के घाट उतार दिया। मगर, जिस इस्‍लामिक लड़ाके ने उसके साथ किया उसे छोड़ दिया गया और मौत की सजा नहीं दी गई।
 
डेर एजोर प्रांत में समलैंगिक होने के आरोप में ऊंची इमारत की छत से लड़के के हाथ पीछे बांधकर उसे धक्‍का दे दिया गया। माना जा रहा है कि आईएस के कमांडर अबु जायद अल-जज़रावी ने उसके साथ दुष्‍कर्म किया था।
 
हालांकि कमांडर को सजा के तौर पर इराक में लड़ाई लड़ने के लिए मोर्चे पर भेज दिया गया है। एक प्रत्‍यक्षदर्शी ने बताया कि लड़के को सार्वजनिक रूप से भारी भीड़ के सामने नागरिक इलाके में मौत के घाट उतार दिया गया। उल्लेखनीय है कि इसके पहले भी इराक में इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकियों ने समलैंगिकता के आरोप में तीन लोगों को ऊंची इमारत से फेंककर मार डाला था। ऊंचाई से नीचे गिरने के बाद भीड़ ने इन लोगों पर पत्थर भी बरसाए थे। 

लड़का आईएस के प्रमुख अधिकारी अबु जायद के साथ समलैंगिक संबंध बनाने में शामिल था। लड़के को मूल रूप से सऊदी के रहने वाले आईएस कमांडर के घर के अंदर से गिरफ्तार किया गया था। 

अबु को सीरिया छोड़कर पश्चिमोत्तर इराक में अग्रिम पंक्ति में जाकर लड़ने के लिए कहा गया है। यह फैसला आईएस के शीर्ष नेताओं ने लिया है। बताया जा रहा है कि लड़के को मूल रूप से सऊदी के रहने वाले आईएस कमांडर के घर के अंदर से गिरफ्तार किया गया था। 
अगले पन्ने पर इस घटना की खौफनाक तस्वीरें... 

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।