भारत का सबसे बड़ा दुश्मन है यूनाइडेट जिहाद काउंसिल का चीफ

WD| Last Updated: मंगलवार, 5 जनवरी 2016 (13:27 IST)
भारत के में हुए आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी लेते हुए पाकिस्तान स्थित आतंकवादियों के समूह यूनाइटेड जिहाद काउंसिल (यूजेसी) ने सोमवार को दावा किया है कि उसके नेशनल हाईवे स्कैवड ने पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले को अंजाम दिया है। 

कोई आतंकवादी संगठन नहीं बल्कि पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर में सक्रिय दर्जन भर से ज़्यादा आतंकवादी संगठनों का गठबंधन है जिसमें 12 से ज़्यादा आतंकवादी संगठन हैं शामिल हैं

यूनाइटेड जेहाद काउंसिल (यूजेसी) के प्रवक्ता सैयद सदाकत हुसैन ने प्रेस को जारी ईमेल में कहा है कि पठानकोट के हमले से हम ये संदेश देना चाहते थे कि भारत का कोई भी सैन्य ठिकाना हमारी पहुंच से बाहर नहीं है हुसैन ने ये भी दावा किया कि भारत, पाकिस्तान फोबिया से ग्रसित है। हुसैन ने मेल में लिखा है कि ऐसे हमलों के लिए पाकिस्तान को दोष देने से कश्मीर की आजादी के आंदोलन पर असर नहीं पड़ेगा। 
 
क्या है यूनाइटेड जिहाद काउंसिल : यूनाइडेट जिहाद काउंसिल पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर में दर्जन भर से ज़्यादा आतंकी संगठनों का समूह है। इस संगठन का प्रमुख 60 साल का मोहम्मद यूसुफ़ शाह उर्फ सैयद सलाहुद्दीन है, जो इलाके के सबसे बड़े हिज़्बुल मुजाहिदीन का भी सरगना है। 
यूनाइडेट जिहाद काउंसिल कोई आतंकवादी संगठन नहीं बल्कि पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर में सक्रिय दर्जन भर से ज़्यादा आतंकवादी संगठनों का गठबंधन है जिसमें 12 से ज़्यादा आतंकवादी संगठन हैं शामिल हैं। इन संगठनों में हिज़बुल मुजाहिदीन, अल-उमर मुजाहिदीन, तहरीक-उल मुजाहिदीन आदि शामिल हैं लेकिन यूजेसी में लश्कर-ए-तैयबा या जैश-ए-मोहम्मद जैसे अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन शामिल नहीं हैं। यह अभी तक पूर्णतया: कश्मीर के स्थानीय आतंकवादी संगठनों का समूह है। 
 
उल्लेखनीय है कि यह पहला मौक़ा है कि यूनाइटेड जिहाद काउंसिल ने बतौर गठबंधन किसी हमले को अंजाम दिया है। इससे पहले अधिकतर हमले या तो अल-अमर मुजाहिदीन ने किए हैं या हिज़बुल मुज़ाहिदीन ने किए हैं। 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :