दुनिया की 5 सबसे खूंखार 'सुंदरियां'


WD|
5. - भले ही 2015 में महिला आतंकियों में जोएन का नाम न हो, लेकिन आतंक के लिए कुख्यात जोएन बहुत पुराना नाम है। जोएन उस दौर में आतंक का चर्चित नाम था, जब अलकायदा का वजूद भी नहीं था। जोएन केसिमर्ड के नाम से अमेरिका कांपता था और एफबीआई ने जोएन पर एक अरब का इनाम रखा था।
 
> > दरअसल जोएन केसिमर्ड अमेरिकी सिपाही और पुलिस को भी निर्ममता से मौत के घाट उतारने के लिए कुख्यात थी। इस महिला आतंकवादी से अमेरिका की चिंता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उसकी जांच एजेंसी एफबीआई ने केसिमर्ड पर 20 लाख डॉलर का इनाम घोषित किया और इस संबंध में एफबीआई ने ब्यौरा जारी किया। जोएन ब्लैक लिबरेशन आर्मी की सदस्य थी। 1973 में जोएन और उसके दो साथियों को न्यूजर्सी पुलिसकर्मियों ने रोका और बाद में अनेक घटनाओं में जोएन का नाम आया। उम्रकैद की सजा होने के बाद भी जोएन जेल की सलाखों से अमेरिकी रक्षातंत्र को अंगूठा दिखाकर भाग निकली जिससे अमेरिकी सुरक्षा तंत्र पर भी सवाल उठे। जब जोएन को न्यूजर्सी जेल में डाला गया तो मात्र दो साल के बाद उसकी ब्लैक लिबरेशन आर्मी के अतिवादियों ने जेल की दीवार को ध्वस्त कर दिया और अपनी वैन को अंदर तक ले जाकर जोएन को आजाद कराकर भाग निकले। एफबीआई के मुताबिक, जोएन और उसके साथियों ने पुलिसकर्मियों पर गोलियां भी चलाईं थी, इसमें एक पुलिसकर्मी मारा गया। इस घटना के बाद अमेरिका में डर और दहशत का जबरदस्‍त माहौल बना, लेकिन जोएन का अमेरिका में कोई पता नहीं चला। बाद में उसके क्यूबा में होने की खबरें आईं। जोएन ब्लैक लिबरेशन आर्मी के उस महिला विंग का प्रतिनिधित्व करती थी, जिसने एक दर्जन से ज्यादा पुलिसकर्मियों की हत्या की।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :