चौतरफा लिवाली से सेंसेक्स 205 अंक चढ़ा

Last Updated: सोमवार, 11 दिसंबर 2017 (19:22 IST)
मुंबई। वैश्विक स्तर से मिले सकारात्मक संकेतों के साथ घरेलू बाजार में चौतरफा लिवाली से सोमवार को बीएसई का सेंसेक्स 205.49 अंक चढ़कर डेढ़ सप्ताह के उच्चतम स्तर 33,455.79 अंक पर पहुंच गया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 56.60 अंक की बढ़त में 10,322.25 अंक पर रहा। दोनों प्रमुख सूचकांकों में लगातार तीसरे दिन बढ़त रही है।

वैश्विक स्तर पर जापान का निक्की 25 साल के उच्चतम स्तर के करीब बंद हुआ। अन्य प्रमुख एशियाई बाजार भी हरे निशान में रहे। इससे सेंसेक्स 67.42 अंक की तेजी के साथ 33,317.72 अंक पर खुला। आरंभिक कारोबार में ही इसने दिवस के निचले स्तर 33,313.17 अंक को छुआ। मजबूत निवेश धारणा के बल पर यह पूरे दिन हरे निशान में रहा।

कारोबार की समाप्ति से पहले 33,535.97 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूने के बाद यह गत दिवस की तुलना में 0.62 प्रतिशत यानी 205.49 अंक की बढ़त में 33,455.79 अंक पर बंद हुआ। यह 29 नवंबर के बाद का इसका उच्चतम स्तर है।

आईटी समूह में सबसे ज्यादा एक प्रतिशत की तेजी के बीच इसी क्षेत्र की टीसीएस ने सेंसेक्स में सबसे ज्यादा करीब ढाई प्रतिशत का मुनाफा कमाया। महिंद्रा एंड महिंद्रा, ल्युपिन, एचडीएफसी और विप्रो के शेयर भी दो प्रतिशत से ज्यादा चढ़े। सेंसेक्स में सबसे ज्यादा 1.36 प्रतिशत का नुकसान एनटीपीसी ने उठाया।

निफ्टी की शुरुआत 44.85 अंक की बढ़त में 10,310.50 अंक पर हुई। सीमित दायरे में हुए कारोबार के दौरान इसका दिवस का निचला स्तर 10,282.05 अंक और उच्चतम स्तर 10,329.20 अंक रहा। कारोबार की समाप्ति पर यह 0.55 प्रतिशत यानी 56.60 अंक पर रहा। यह इसका भी 29 नवंबर के बाद का उच्चतम बंद स्तर है। निफ्टी की 50 कंपनियों में से 33 के शेयर हरे और शेष 17 के लाल निशान में रहे।

बीएसई में कुल 2,881 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,423 के शेयरों में बढ़त और 1,270 में गिरावट रही जबकि 188 कंपनियों के शेयर अपरिवर्तित बंद हुए। दिग्गज कंपनियों की तुलना में मझौली और छोटी कंपनियों में तेजी अपेक्षाकृत कम रही। बीएसई का मिडकैप 0.36 प्रतिशत चढ़कर 17,106.29 अंक और स्मॉलकैप 0.22 प्रतिशत की बढ़त में 18,251.77 अंक पर पहुंच गया। (वार्ता)

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :