Widgets Magazine

सेंसेक्स टूटा, निफ्टी बढ़त में

पुनः संशोधित शुक्रवार, 16 जून 2017 (17:58 IST)
मुंबई। वैश्विक बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों के बीच लगभग पूरे दिन हरे निशान में रहने के बाद बीएसई का सेंसेक्स शुक्रवार को 19.33 अंक टूटकर तीन सप्ताह के निचले स्तर 31,056.40 अंक पर आ गया, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 10 अंक की बढ़त में 9,588.05 अंक पर बंद हुआ।
   
सेंसेक्स की शुरुआत 84.74 अंक की तेजी के साथ 31,160.47 अंक पर हुई। बैंकिंग कंपनियों के साथ टाटा मोटर्स और एफएमसीजी क्षेत्र की आईटीसी के शेयरों में हुई लिवाली से इसे बल मिला। दोपहर से पहले के कारोबार में एक समय यह 31,182.73 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर पर भी पहुंचा, लेकिन इसके बाद इसकी बढ़त कुछ कम हो गई।
 
दवा तथा आईटी और टेक क्षेत्र की कंपनियों में बिकवाली के दबाव में अंतिम घंटे के कारोबार के दौरान 31,017.18 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस के मुकाबले 0.06 प्रतिशत यानी 19.33 अंक फिसलकर 31056.40 अंक पर बंद हुआ। यह 26 मई के बाद का इसका निचला बंद स्तर है।
 
सेंसेक्स में ल्युपिन ने करीब साढ़े चार प्रतिशत और सन फार्मा ने लगभग तीन फीसदी का नुकसान उठाया। विप्रो और सिप्ला के शेयर भी दो प्रतिशत से अधिक टूटे। सर्वाधिक मुनाफा टाटा मोटर्स ने कमाया। इसके शेयर डेढ़ प्रतिशत से ज्यादा चढ़े। आईटीसी के शेयर भी करीब डेढ़ फीसदी चढ़े।
 
निफ्टी भी 27.40 अंक की बढ़त में 9,595.45 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान इसका दिवस का उच्चतम स्तर 9,615.85 अंक रहा। बिकवाली के दबाव में यह भी अंतिम घंटे में 9,565.50 अंक के दिवस के निचले स्तर तक उतर गया, लेकिन अंतत: 0.10 प्रतिशत यानी 10 अंक की बढ़त में 9,588.05 अंक पर बंद होने में कामयाब रहा।
 
निफ्टी की 51 में से 25 कंपनियां हरे और 26 लाल निशान में तथा सेंसेक्स की 30 में से 13 कंपनियां हरे और 17 लाल निशान में रहीं। मझौली और छोटी कंपनियों में निवेशकों का विश्वास ज्यादा दिखा। बीएसई का मिडकैप 0.17 प्रतिशत चढ़कर 14,807.33 अंक पर और स्मॉलकैप 0.14 प्रतिशत चढ़कर 15,649.29 अंक पर पहुंच गया। सेंसेक्स में कुल 2,827 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,340 के शेयर बढ़त में और 1,332 के गिरावट में रहे जबकि 155 के शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ। (वार्ता)
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine