Widgets Magazine

लगातार दूसरे दिन गिरावट में रहा शेयर बाजार

पुनः संशोधित शुक्रवार, 3 मार्च 2017 (17:23 IST)
मुंबई। विदेशी शेयर बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों और घरेलू बाजार में जारी मुनाफावसूली  से शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन में गिरावट में बंद हुए। शेयर बाजार में लगातार  5 सप्ताह की तेजी के बाद यह पहली साप्ताहिक गिरावट है। 
 
मुनाफावसूली के दबाव में बीएसई के 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 7.34 अंक की  मामूली गिरावट के साथ 28,832.45 अंक पर आ गया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी  2.20 अंक लुढ़ककर 8,897.55 अंक पर बंद हुआ।
 
कारोबार के दौरान बड़ी कंपनियों की अपेक्षा मझौली और छोटी कंपनियों में अधिक लिवाली हुई।  बीएसई का मिडकैप 0.23 प्रतिशत अर्थात 31.26 अंक की तेजी से 13,409.04 अंक पर और  स्मॉलकैप 0.34 फीसदी अर्थात 45.69 अंक चढ़कर 13,620.17 अंक पर रहा।
 
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नीतियों को लेकर निवेशक अब भी आशंकित हैं जिसका  प्रभाव शेयर बाजार पर पड़ रहा है। वैश्विक उथल-पुथल तथा कुछ यूरोपीय देशों में होने वाले  चुनाव का असर भी विदेशी शेयर बाजारों पर दिख रहा है। घरेलू बाजार में वित्त, एफएमसीजी,  ऑटो, बैंकिंग और कैपिटल गुड्स समूह में बिकवाली का जोर है जिसकी वजह से बीएसई के  20 में से 15 समूहों में तेजी रहने के बावजूद सेंसेक्स बढ़त बनाने में नाकामयाब रहा। 
 
सेंसेक्स में गुरुवार की गिरावट शुक्रवार को शुरुआती कारोबार में भी हावी रही और सेंसेक्स  12.29 अंक की गिरावट के साथ 28,827.50 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह  28,860.13 अंक के उच्चतम और 28,716.21 अंक के निचले स्तर को छूता हुआ गत दिवस  की तुलना में 0.03 फीसदी की मामूली गिरावट के साथ 28,832.45 अंक पर बंद हुआ। 
 
सेंसेक्स की तरह निफ्टी भी 16.25 अंकों की गिरावट के साथ 8,883.50 अंक पर खुला। यह  कारोबार के दौरान 8,907.10 अंक के उच्चतम और 8,860.10 अंक के निचले स्तर को छूता  हुआ गत दिवस की तुलना में 0.02 फीसदी लुढ़ककर 8,897.55 अंक पर बंद हुआ।

निफ्टी की  51 में 24 कंपनियों में तेजी रही और शेष 27 गिरावट में रहीं। बीएसई में कुल 3,007 कंपनियों में कारोबार हुआ जिनमें से 1,447 गिरावट में, 1387 बढ़त  में और 173 पिछले दिवस के स्तर पर टिके रहे। (वार्ता)
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine