शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स गिरा, निफ्टी भी लुढ़का

share market
पुनः संशोधित बुधवार, 3 अक्टूबर 2018 (12:07 IST)
मुंबई। विदेशी निवेशकों की जारी निकासी तथा कच्चे तेल की कीमतों में लगातार तेजी के बीच रुपए के रिकॉर्ड निचले स्तर पर आ जाने से बुधवार को शुरुआती कारोबार में 200 अंक से अधिक गिर गया। निफ्टी भी लुढ़ककर 11 हजार अंक के स्तर से नीचे आ गया।

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 36,325.15 अंक के निचले स्तर को छूने के बाद शुरुआती कारोबार में 231.08 अंक यानी 0.63 प्रतिशत गिरकर 36,295.06 अंक पर रहा। रिजर्व बैंक द्वारा तरलता बढ़ाने के कदम उठाने की घोषणा के बाद सोमवार को इसमें 299 अंक की तेजी रही थी। निवेशकों ने कारोबार की शुरुआत में रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक से पहले सतर्कता बरती।

बीएसई के समूहों में सार्वजनिक कंपनियां, धातु, ढांचागत संरचना, विद्युत, तेल एवं गैस, वाहन, पूंजीगत वस्तुएं, रीयल्टी और टिकाऊ उपभोक्ता उत्पाद के शेयर 1.43 प्रतिशत तक गिर गए। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 93.55 अंक यानी 0.85 प्रतिशत गिरकर 10,914.75 अंक पर आ गया।

बड़ी कंपनियों में मारुति सुजुकी, एशियन पेंट्स, टीसीएस, कोल इंडिया, एचडीएफसी बैंक, भारतीय स्टेट बैंक और इंडसइंड बैंक में 2.18 प्रतिशत तक की गिरावट रही। हालांकि यस बैंक में लगातार दूसरे दिन सुधार जारी रहा और इसका शेयर सात प्रतिशत तक चढ़ गया। प्राथमिक आंकड़ों के अनुसार, सोमवार को विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने 1,842 करोड़ रुपए के शेयरों की शुद्ध बिकवाली की।

घरेलू संस्थागत निवेशक 1,805 करोड़ रुपए के शुद्ध लिवाल रहे। इस बीच ब्रेंट क्रूड 85 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। रुपया शुरुआती कारोबार में 43 पैसे गिरकर सर्वकालिक निचले स्तर 73.34 रुपए प्रति डॉलर पर आ गया। एशियाई बाजारों में गिरावट ने भी बाजार की धारणा को प्रभावित किया।

एशियाई बाजारों में शुरुआती कारोबार में जापान का निक्की 0.40 प्रतिशत और हांगकांग का हैंग सेंग 0.56 प्रतिशत गिर गया। चीन का शंघाई कंपोजिट सार्वजनिक अवकाश के कारण बंद रहा। अमेरिका का डाउ जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज मंगलवार को 0.46 प्रतिशत की तेजी के बाद रिकॉर्ड उच्च स्तर पर बंद हुआ था। (भाषा)


और भी पढ़ें :