गिरावट से उबरा बाजार, सेंसेक्स और निफ्टी में रही तेजी

share market
पुनः संशोधित सोमवार, 1 अक्टूबर 2018 (17:06 IST)
मुम्बई। विदेशी बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच विनिर्माण क्षेत्र की रफ्तार बढ़ने और वाहन बिक्री के सकारात्मक आंकड़ों के बल पर घरेलू सोमवार को तीन दिन की गिरावट से उबरने में कामयाब रहे। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 299 अंक की तेजी में 36,526.14 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 77.85 अंक की बढ़त में 11,008.30 अंक पर बंद हुआ।

उत्पादन और नए ऑर्डरों के, विशेषकर विदेशों से मिले ऑर्डरों के गति पकड़ने से देश के विनिर्माण क्षेत्र में सितंबर में तेजी देखी गई तथा निक्की का विनिर्माण खरीद प्रबंधकों (पीएमआई) का सूचकांक बढ़कर 52.2 पर पहुंच गया। यह लगातार 14वां महीना रहा, जब विनिर्माण गतिविधियों में तेजी आई है।

इसके साथ ही वाहन बिक्री के आंकड़े भी निवेश के पक्ष में रहे। हालांकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों के चार के उच्चतम स्तर पर पहुंचने का दबाव भी शेयर बाजार पर देखा गया। सेंसेक्स तेजी के साथ 36,274.25 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान आईटी और टेक कंपनियों में हुई लिवाली के दम पर सेंसेक्स 36,616.64 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा।

सेंसेक्स बाद में 35,960.65 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.83 फीसदी की छलांग लगाकर 36,526.14 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 21 कंपनियां हरे निशान में रहीं, जबकि आईटीसी के शेयरों की कीमतें दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अपरिवर्तित रहीं। निफ्टी 10,930.90 अंक पर सपाट खुला।

कारोबार के दौरान यह 11,035.65 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,821.55 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.71 फीसदी की तेजी में 11,008.30 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 34 कंपनियां तेजी में और शेष 16 गिरावट में रहीं। दिग्गज कंपनियों की तुलना में मझोली कंपनियों में लिवाली कम रही, जबकि छोटी कंपनियों में बिकवाली का जोर रहा।

बीएसई का मिडकैप 0.53 प्रतिशत यानी 77.54 अंक की तेजी में 14,840.74 अंक पर और स्मॉलकैप 0.25 प्रतिशत यानी 35.45 अंक की गिरावट में 14,395.23 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,855 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें 189 कंपनियों के शेयर अपरिवर्तित रहे, जबकि 1,620 में गिरावट और 1,046 में तेजी रही। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :