Widgets Magazine

वावरिंका को हराकर फेडरर बने 5वीं बार चैंपियन

पुनः संशोधित मंगलवार, 21 मार्च 2017 (00:08 IST)
इंडियन वेल्स। अपनी पुरानी सुनहरी फॉर्म में दिखाई दे रहे स्विटजरलैंड के रोजर फेडरर ने एक बार फिर हमवतन स्टेनिसलास वावरिंका पर अपनी श्रेष्ठता साबित करते हुए यहां में अपना रिकॉर्ड संयुक्त 5वां खिताब हासिल कर लिया है।
35 वर्षीय फेडरर ने वावरिंका को लगातार सेटों में 6-4, 7-5 से हराया और 5वीं बार यहां खिताब जीता। वह इसी के साथ इंडियन वेल्स का खिताब पाने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी भी बन गए हैं।
 
6 महीने की चोट के बाद वापसी करने और फिर जनवरी में ऑस्ट्रेलियन ओपन के जरिए अपना 18वां ग्रैंड स्लेम जीतने वाले फेडरर ने इंडियन वेल्स में कमाल का प्रदर्शन किया और बिना एक भी सेट गंवाए फाइनल तक पहुंचे। ऑस्ट्रेलियन ओपन के सेमीफाइनल में भी वह वावरिंका से भिड़े थे जहां उन्होंने जीत दर्ज की थी और इस बार भी वावरिंका कोई अपवाद साबित नहीं हो पाए।
 
2 ग्रैंड स्लेम चैंपियनों के बीच इस हाईवोल्टेज मुकाबले में दोनों करीबी दोस्त ओपनिंग सेट में 5-4 के स्कोर पर फिर 10वें गेम तक सर्विस करते रहे जहां फेडरर ने 21 शॉट की रैली के बाद वावरिंका को हराया। इंडियन वेल्स के फाइनल में पहली बार पहुंचे 31 वर्षीय खिलाड़ी ने दूसरे सेट में बेहतर खेल दिखाया और सर्विस बचाकर 2-0 की शुरूआती बढ़त ली। लेकिन फेडरर ने अगले तीनोंगेम जीते और वावरिंका की 12वें गेम में सर्विस ब्रेक कर 80 मिनट में मैच निपटा दिया।
 
फेडरर अब सर्बिया के नोवाक जोकोविच के बराबर पहुंच गए हैं जिन्होंने 5 बार यहां खिताब जीता है। लेकिन साथ ही फेडरर इंडियन वेल्स को जीतने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने इस मामले में जिमी कोनोर को पीछे छोड़ दिया है जिन्होंने 1984 में 31 साल की उम्र में यहां ट्रॉफी जीती थी।
 
वावरिंका अपने पहले खिताब से चूकने पर कुछ दुखी दिखाई दिए लेकिन दर्शकों ने उनका अभिवादन किया। फेडरर ने जीत के बाद कहा कि जब गत वर्ष मैं यहां नहीं आ सका था तो दुखी था लेकिन इस बार यहां आकर और जीतकर बहुत खुश हूं। मेरे लिए यह सप्ताह बेहतरीन रहा है। मैं अभी खेल में फिर से वापसी की कोशिश कर रहा हूं और उम्मीद है कि मैं ऐसा खेल जारी रख सकूं।
 
उन्होंने कहा कि मैं यहां 17 वर्ष पहले पहली बार आया था तो ऐसे में यहां वापिस आकर और खिताब जीतकर अच्छा लग रहा है। मैं शब्दों में नहीं कह सकता कि यह जीत मेरे लिए कितने मायने रखती है। (वार्ता)
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine