रोजर फेडरर विंबलडन के फाइनल में, राफेल नडाल को दी शिकस्‍त, जोकोविच से होगा मुकाबला

Roger Federer
पुनः संशोधित शनिवार, 13 जुलाई 2019 (17:14 IST)
लंदन। 8 बार के विजेता स्विटजरलैंड के रोजर फेडरर ने चिर प्रतिद्वंद्वी स्पेन के को हरा 12वीं बार पुरुष एकल फाइनल में प्रवेश कर लिया है, जहां उनका मुकाबला सर्बिया के से होगा।
दूसरी सीड फेडरर ने नडाल को 7-6 (3), 1-6, 6-3, 6-4 से पराजित किया। वर्ष 2008 फाइनल के बाद से यह दोनों खिलाड़ियों के बीच पहला मुकाबला था, उस समय नडाल चैंपियन रहे थे। फेडरर ने जीत के बाद कहा, मैं अपने गेम प्लान पर टिका रहा था और आक्रामकता के साथ खेला। मैंने दूसरे सेट के बाद अच्छी सर्विस भी की। मैंने तीसरे और चौथे सेट में महत्वपूर्ण अंक भी बटोरे। हमारे बीच कई चुनौतीपूर्ण रैलियां भी चलीं, जिसमें मुझे फायदा मिला।

गत माह रिकार्ड 12वां फ्रेंच ओपन खिताब जीतने के बाद कहा, फेडरर के रिटर्न मुझसे बेहतर थे जबकि मैं अच्छा नहीं कर सका। फेडरर मैच में कंट्रोल में थे जबकि मैं थोड़ा दबाव में था। फेडरर का अब खिताब के लिए गत चैंपियन सर्बिया के नोवाक जोकोविच से मुकाबला हुआ। 4 बार के चैंपियन जोकोविच ने स्पेन के रॉबर्टा बतिस्ता अगुत को 6-2, 4-6, 6-3, 6-2 से हराकर फाइनल में जगह बनाई है। फेडरर ने जोकोविच के साथ मैच को लेकर कहा, मैं जोकोविच के साथ मैच को लेकर बहुत उत्साहित हूं। हमने एक-दूसरे के खिलाफ काफी खेला है। हमने हाल ही में पेरिस में भी एक-दूसरे के खिलाफ एक बढ़िया मैच खेला था। उम्मीद है कि वैसे ही हम फाइनल में खेलेंगे।

2 बार के चैंपियन नडाल ने गत माह फ्रेंच ओपन सेमीफाइनल में फेडरर को लगातार सेटों में हराकर बाहर किया था और अभी भी स्विस मास्टर से आपसी करियर भिड़ंत के मामले में 24-16 से आगे हैं। वर्ष 2015 के विंबलडन फाइनल में जोकोविच ने फेडरर को हरा खिताब जीता था और उसके बाद से इन दोनों के बीच किसी ग्रैंड स्लेम में यह पहला फाइनल होगा।

37 वर्षीय फेडरर ओपन युगल में ग्रैंड स्लेम चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचने वाले तीसरे सबसे उम्रदराज़ खिलाड़ी बने हैं। फेडरर ने क्वार्टर फाइनल में जापान के केई निशिकोरी को हराकर विंबलडन में अपनी 100वीं जीत दर्ज की थी। वे रविवार को अपना 21वां ग्रैंड स्लेम जीतने की पूरी कोशिश करेंगे। यह उनका 31वां ग्रैंड स्लेम फाइनल होगा।

जोकोविच ने वर्ष 2014 और 2015 के विंबलडन फाइनल में फेडरर को हराकर खिताब जीता था। 2015 फाइनल के बाद से इन दोनों के बीच किसी ग्रैंड स्लेम में यह पहला फाइनल होगा। पिछले नवंबर में जोकोविच ने पेरिस मास्टर में फेडरर को हराया था और उसके बाद से दोनों के बीच यह पहला मुकाबला होगा।

पेरिस मास्टर के सेमीफाइनल में जोकोविच ने 7-6, 5-7, 7-6 से जीत हासिल की थी और इसे उन्होंने अपने सर्वश्रेष्ठ मैचों में से एक माना था। विंबलडन फाइनल में भी इन दोनों दिग्गज खिलाड़ियों के बीच रोमांचक मुकाबले की उम्मीद की जा रही है।

 
-->

और भी पढ़ें :