शटलर लक्ष्य सेन ने यूथ ओलंपिक में पक्का किया पदक

Last Updated: शुक्रवार, 12 अक्टूबर 2018 (18:32 IST)
ब्यूनस आयर्स। भारतीय ने यहां चल रहे में पुरुष एकल बैडमिंटन स्पर्धा के में प्रवेश कर लिया जिसके साथ ही उन्होंने देश के लिए भी एक पदक भी पक्का कर लिया है।

लक्ष्य ने पुरुष एकल क्वार्टर फाइनल मैच में दूसरी सीड कोडाई नारोका को 3 गेमों में 14-21, 21-15, 24-22 से पराजित किया। इसी के साथ उन्होंने भारत के लिए इन खेलों में 7वां पदक भी पक्का कर लिया।

हालांकि लक्ष्य को शुरुआत में ही काफी संघर्ष करना पड़ गया और पहले गेम में वे 14-21 से पराजित हो गए लेकिन दूसरे गेम से उन्होंने अपनी लय कायम रखी। उन्होंने निर्णायक गेम में भी 2 बार बढ़त गंवाई और अंतत: 75 मिनट तक चले मैच में मैच प्वॉइंट बचाने के साथ ही जीत अपने नाम की।
सेन ने तीसरे गेम में 11-0 की एकतरफा बढ़त बनाई लेकिन नरोका ने लंबी रैली खेलते हुए वापसी की। भारतीय शटलर ने एक समय 18-8 की बढ़त बनाई लेकिन जापानी खिलाड़ी ने फिर 19-19 पर बराबरी कर मैच को रोमांचक बना दिया। सेन ने 2 मैच प्वॉइंट बचाए और तीसरे मैच प्वॉइंट पर 24-22 से गेम और मैच जीता।

सेन अब सेमीफाइनल में 5वीं सीड चीन के शिफेंग ली से भिड़ेंगे। यह भारत का यूथ ओलंपिक में दूसरा पदक है। इससे पहले वर्ष 2010 में एचएस प्रणय ने सिंगापुर में रजत पदक जीता था।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :