वियतनाम ओपन के फाइनल मुकाबले में अजय जयराम

Last Updated: शनिवार, 11 अगस्त 2018 (19:12 IST)
मिन्ह सिटी। भारतीय शटलर ने सातवीं सीड के यू इगाराशी को उलटफेर का शिकार बनाते हुए शनिवार को यहां टूर्नामेंट के पुरुष एकल फाइनल में जगह बना ली जबकि मिथुन मंजूनाथ कड़े संघर्ष के बावजूद अपनी चुनौती नहीं बचा सके।

विश्व में 93वीं रैंक के जयराम ने अपने से ऊंची 49वीं रैंक वाले जापानी खिलाड़ी यू को 34 मिनट तक चले मुकाबले में लगातार गेमों में 21-14, 21-19 से पराजित कर आसानी से सेमीफाइनल मुकाबला जीत लिया।

गैर वरीय जयराम और सातवीं वरीय जापानी खिलाड़ी के बीच यह करियर की पहली भिड़ंत थी। भारतीय खिलाड़ी फाइनल में प्रवेश करने के साथ टूर्नामेंट में एकमात्र शेष भारतीय हैं जो खिताब पाने के लिए इंडोनेशिया के शेसार हिरेन हुस्तावितो के खिलाफ उतरेंगे।

हुस्तावितो ने दिन के एक अन्य सेमीफाइनल में भारतीय खिलाड़ी मंजूनाथ की चुनौती तोड़ते हुए फाइनल का टिकट कटाया। हालांकि इंडोनेशियाई खिलाड़ी को मंजूनाथ के खिलाफ करीब एक घंटे तक संघर्ष करने के बाद 21-17, 19-21, 21-14 से जीत प्राप्त हुई।

जयराम और 79वीं रैंक हुस्तावितो के बीच इससे पहले करियर में पांच वर्ष पूर्व एकमात्र मुकाबला हुआ है जिसमें भारतीय खिलाड़ी ने जीत हासिल की थी। दोनों के बीच वर्ष 2013 के थाईलैंड ओपन में मैच हुआ था जब जयराम ने तीन गेमों के संघर्ष में 21-11,19-21, 21-9 से हुस्तावितो को मात दी थी। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :