सेक्स न करने पर भी हो जाता है यह यौन संक्रमण रोग

WD|
आम धारणा है कि कोई भी रोग या सेक्सुअली ट्रान्समिटिड डीसीस तभी होती है जब पीड़ित ने किया हो लेकिन हाल ही में एक शोध में एक नए प्रकार के के बारे में जानकारी सामने आई है। इस यौन संक्रमण रोग को माइकोप्लाज्मा जेनेटीलियम (mycoplasma genitalium, or MG) के नाम से जाना जाता है। 
यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लंदन का शोध के अनुसार विशेषज्ञों को अस्सी के दशक से ही एमजी की जानकारी थी, इंटरनेशनल जर्नल ऑफ़ एपिडेमियोलॉजी में प्रकाशित नए पेपर से पता चला कि ये जीवाणु संक्रमण जो मूत्र और जननांग आदि जगहों पर रहता है, यौन संपर्क के माध्यम से फैलता है। निष्कर्षों तक पहुंचने के लिए, यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के शोधकर्ताओं ने 18 से 44 वर्ष की उम्र के बीच की उन 4507 पुरुषों और महिलाओं के मूत्र के नमूने की जांच की, जोकि जो कम से कम एक साथी के साथ यौन रूप से सक्रिय थे। इन लोगों में से 48 महिलाओं और 24 पुरुषों में माइकोप्लाज्मा जेनेटीलियम संक्रमण देखा गया। 
 
हालांकि जब शोधकर्ताओं ने लगभग 200 किशोरों से मूत्र के नमूने का परीक्षण किया, जिन्होंने कभी सेक्स नहीं किया था, तो किसी को भी यह संक्रमण नहीं था।यूं तो पहले से ही कई प्रकार के यौन संक्रमण रोगों (सेक्स ट्रांसमिटिड डिजीज) के बारे में लोगों के सचेत व जागरूक किया जाता रहा है, लेकिन इसी बीच एक नए प्रकार के यौन संक्रमण रोग के बारे में जानकारी सामने आई है। इस यौन संक्रमण रोग को माइकोप्लाज्मा जेनेटीलियम (mycoplasma genitalium, or MG) के नाम से जाना जाता है। 
 
क्या होता है माइकोप्लाज्मा जेनेटीलियम व क्या है इसका उपचार... 

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :