मुख पृष्ठ धर्म-संसार » ज्योतिष » ज्योतिष 2013 » वर्ष 2013 : बारह राशियों का भविष्यफल (Astrology 2013 in Hindi)

वृषभ राशि : उमंग, उत्साह वाला रहेगा नया साल


वृषभ राशि
FILE

वृषभ राशि कृतिका नक्षत्र के तीन चरण, रोहिणी और मृगाशिरा नक्षत्र के प्रथम और द्वितीय चरणों के संयोग से बनी है। इसका राशि स्वामी शुक्र है। मंत्रीमंडल में इसे मंत्री का पद प्राप्त है। इस राशि का जातक यदि कृष्ण पक्ष में जन्म ले तो उसे दमा इत्यादि होने की संभावना रहती है। इस राशि के जातक स्वभाव से गंभीर और विनम्रशील होते है।

वृषभ राशि वाले जातकों के लिए यह वर्ष उमंग, उत्साह वाला रहेगा। परोपकार, वात्सल्य भाव का प्रादुर्भाव होगा। विशिष्ट कार्य सिद्धि के साथ आत्मबल बढे़गा। वर्ष में शारीरिक कष्ट, दुख के साथ जीवनसाथी से कुछ वियोग के योग बनेंगे। इस वर्ष नि:संतान को संतान प्राप्ति के योग है। जून से अचल सम्पति के प्रति चिंता व नवीन स्थायी काम के योग बनेंगे।

सामाजिक व आर्थिक सम्मान में बढ़ोतरी होगी। विद्यार्थी एवं राजनैतिक व्यक्ति को सफलता मिलेगी। व्यापारियों को उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा। वर्ष में शिव आराधना के साथ राहु-केतु की शांति लाभदायक रहेगी।

अगले पन्ने पर पढ़िए मिथुन र‍ाशि....

संबंधित जानकारी
Feedback Print