फादर्स डे पर अपने पिता को दीजिए यह 5 अनमोल उपहार

फादर्स डे यानी पिता को थैंक्यू बोलने और उनके प्रति अपने प्रेम भरे भावों को अभिव्यक्त करने का खास दिन... अक्सर कहने की अपेक्षा जताकर अपने प्रेम को आप बेहतर तरीके से अभिव्यक्त कर पाते हैं और अभिव्यक्ति का सबसे बेहतर तरीका है तोहफा ...जी हां आपके द्वारा दिया गया तोहफा आपके भावों को उन तक आसानी से पहुंचा देता है जिन्हें आप स्पेशल महसूस करवाना चाहते हैं ...तो फादर्स डे के लिए जानिए यह पांच उपहार और अपने पिता के प्रति व्यक्त कीजिए यह प्यार भरे जज्बात....
1 :
तस्वीरें
कहते हैं तस्वीरें वह सब कुछ कह जाती है जो आप मन में महसूस कर रहे होते हैं...और कई बार तो उससे भी ज्यादा। तो क्यों ना कुछ पुरानी यादों को फिर से ताजा कर उन्हें फ्रेम करा कर पापा को गिफ्ट दिया जाए ...यकीनन यह तोहफा उन्हें खुश
कर देगा

2 : लिखकर जताएं
पिता के प्रति आप क्या महसूस करते हैं और उनके प्रति कितना गहरा लगाव है इससे जुड़े सभी भावों को क्यों न कागज पर उतारा जाए और उपहार स्वरूप उन्हें दिया जाए ...यकीन मानिए कागज पर उतरे ये शब्द उनके लिए बेहद भावपूर्ण होंगे और वह आपके इस वक्त को हमेशा संभाल कर रखना चाहिए चाहेंगे
3 : पारिवारिक यात्रा
बचपन से लेकर अब तक आप की जिम्मेदारियों को पापा ने बखूबी निभाई ...क्यों ना कुछ वक्त खुद उनके लिए निकाला जाए! घूमने फिरने की किसी अच्छी जगह की तलाश करें और परिवार सहित टिकट बुक कराएं। परिवार के साथ इस यात्रा इस यात्रा में मां और पिता दोनों ही खुश होंगे और आपका भी एंजॉयमेन्ट भी हो जाएगा
4 : फेवरेट डिश बनाएं
फादर्स डे पर इससे अच्छा तोहफा और क्या हो सकता है की आप पापा की किसी फेवरेट डिश को अपने हाथों से गार्निश कर तैयार करें और उनके सामने अनोखे अंदाज में उसे पेश करें । आपके द्वारा की गई यह मेहनत उनके मन को आपके प्रति और भी ज्यादा दुलार से भर देगी।
5 : पसंदीदा फिल्में और गाने
क्यों न कुछ ऐसा किया जाए कि पापा के पसंदीदा गाने और उनकी पसंदीदा फिल्मों की एक सीडी या कैसेट तैयार की जाए और उन्हें गिफ्ट कर दी जाए ।अब वह जब चाहे अपनी पसंदीदा फिल्म देख सकते हैं और अपनी पसंद के गाने सुन सकते हैं। अपने जमाने के इन गानों को सुनकर उनका मन भी खुश हो जाएगा और उनके चेहरे पर मुस्कान देखकर आप भी खुश।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके बच्चे को बिगड़ने से कोई नहीं रोक सकता!
पैरेंट्स की कुछ ऐसी आदतें होती हैं, जो वे बच्चों को सुधारने, कुछ सिखाने-पढ़ाने और नियंत्रण ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो यह एस्ट्रो टिप्स आपके लिए है
क्या आप भी संकोची हैं, अगर हां तो यह आलेख आपके लिए है...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों ...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों को नजरअंदाज करें, वरना हो सकती है बड़ी परेशानी
ये बीमारी भी ऐसे ही सामने नहीं आती। इसके भी लक्षण हैं जो आप और हम जैसे लोग अनदेखा करते ...

5 ऐसी चीजें जो लिवर की बीमारी को करती हैं दूर, एक बार पढ़ें ...

5 ऐसी चीजें जो लिवर की बीमारी को करती हैं दूर, एक बार पढ़ें जरूर
आप खाने के शौकीन हैं लेकिन क्या आप महसूस कर रहे हैं कि पिछले कुछ समय से आपका पाचन थोड़ा ...

दोमुंहे बालों से छुटकारा पाना चाहती हैं, तो ये 4 तरीके ...

दोमुंहे बालों से छुटकारा पाना चाहती हैं, तो ये 4 तरीके अपनाएं
जब बालों का निचला हिस्सा दो भागों में बंट जाता है, तब उसे बालों का दोमुंहा होना कहते हैं। ...

फुटबॉल के मैदान से हटकर अब चर्चा कूटनीति के मैदान की

फुटबॉल के मैदान से हटकर अब चर्चा कूटनीति के मैदान की
दुनिया का सबसे बड़ा और रोमांच से भरपूर फुटबॉल मेला समाप्त हुआ। करोड़ों को रुला लिया, ...

प्रेम गीत : नाराज़ हैं मेहरबाँ मेरे

प्रेम गीत : नाराज़ हैं मेहरबाँ मेरे
नाराज़ हैं मेहरबाँ मेरे,अब आ भी जाओ,कि अंजुमन को तेरी दरक़ार है, ढूँढता रहा,

कैसे करें देवशयनी एकादशी व्रत, क्या मिलेगा इस व्रत का फल, ...

कैसे करें देवशयनी एकादशी व्रत, क्या मिलेगा इस व्रत का फल, जानिए...
आषाढ़ शुक्ल पक्ष की एकादशी को ही देवशयनी एकादशी कहा जाता है। इस दिन से भगवान श्री हरि ...

कैसा है शिव का स्वरूप, क्यों माने गए हैं स्वयंभू, जानिए...

कैसा है शिव का स्वरूप, क्यों माने गए हैं स्वयंभू, जानिए...
शिव यक्ष के रूप को धारण करते हैं और लंबी-लंबी खूबसूरत जिनकी जटाएं हैं, जिनके हाथ में ...

ग़ज़ल: सर झुकाना आ जाये

ग़ज़ल: सर झुकाना आ जाये
नज़ाकत-ए-जानाँ1 देखकर सुकून-ए-बे-कराँ2 आ जाये, चाहता हूँ बेबाक इश्क़ मिरे बे-सोज़3 ज़माना ...