महबूबा की इफ्तार पार्टी से कांग्रेस का किनारा

पुनः संशोधित सोमवार, 19 जून 2017 (10:11 IST)
जम्मू। जम्मू-कश्मीर में नेताओं ने मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की ओर से आयोजित रविवार को एक इफ्तार पार्टी से खुद को अलग ही रखा। कांग्रेस का कहना है कि राज्य में पुलिसकर्मी आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में शहीद हो रहे हैं ऐसे में इफ्तार पार्टी करने का कोई मतलब नहीं है।

जम्मू-कश्मीर प्रदेश कांग्रेस समिति (जेकेपीसीसी) के प्रवक्ता रविन्दर शर्मा ने कहा कि आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में 6 पुलिसकर्मी शहीद हो गए हैं और मुख्यमंत्री इफ्तार का आयोजन कर रही हैं। ये क्या मजाक है? हम ऐसी पार्टी से दूर ही रहेंगे, क्योंकि यह समय किसी पार्टी में शामिल होने का नहीं बल्कि शहीदों के प्रति संवेदना प्रकट करने का है।

शर्मा ने कहा कि भाजपा नेताओं के पास शहीदों के संस्कार में शामिल होने का समय नहीं होता है लेकिन उनके पास इफ्तार पार्टी में जाने का समय होता है। (वार्ता)

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :