महंगा पड़ी रिश्वत, मिली यह सजा...

कानपुर| अवनीश कुमार| पुनः संशोधित शुक्रवार, 22 सितम्बर 2017 (09:22 IST)
कानपुर। उत्तर प्रदेश के में कलेक्ट्रेट में हैसियत प्रमाण पत्र बनाने के नाम पर घूस लेना बाबू को खासा महंगा पड़ गया। ने बाबू को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से केमिकल लगे नोट बरामद कर लिया। 
 
मिली जानकारी के अनुशार कल्याणपुर केशवपुरम निवासी आशीष द्विवेदी ने हैसियत प्रमाण बनाने के लिए कलेक्ट्रेट में सम्बंधित विभाग में आवेदन किया था। आवेदन के बाद लगातार आवेदक को लगातार टरकाया जा रहा था।
 
आवेदक के पूछने पर बाबू अजीत यादव ने प्रमाण पत्र को प्रमाणित कराने के लिए अधिकारी के हस्ताक्षर कराने के नाम पर दो हजार रुपए की मांगी। इस पर आशीष द्विवेदी ने इसकी शिकायत जिलाधिकारी से की।
 
जिलाधिकारी ने आशीष की शिकायत के मद्देनजर सारा मामला विजिलेंस एसपी संजय कुमार के संज्ञान में डाला तो शिकायत के आधार पर विजलेंस टीम ने जाल बिछाया और गुरुवार को कार्यालय में पीड़ित बाबू द्वारा तय समय पर रिश्वत देने पहुंचा। जैसे ही बाबू ने रिश्वत हाथ ली,वैसे ही विजलेंस टीम ने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया। विजलेंस टीम ने पकड़े गए घूसखोर बाबू को कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया।
 

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :