Widgets Magazine

शहीद मंगल पांडे के गाँव की शिनाख्त

बलिया| भाषा| पुनः संशोधित गुरुवार, 28 अक्टूबर 2010 (20:09 IST)
उत्तर प्रदेश में बलिया जिले की एक अदालत ने आज एक फैसले में कहा कि प्रथम स्वाधीनता संग्राम के नायक शहीद मंगल पांडे बलिया जिले के नगवा गाँव के ही रहने वाले थे।

शहीद मंगल पांडे के जीवन पर आधारित फिल्म 'द राइजिंग' में उनके कथित चरित्र हनन को लेकर संतोष पांडे की याचिका पर सुनवाई कर रहे दीवानी न्यायाधीश आजाद सिंह ने फिल्म के अभिनेता निर्माता और निर्देशक आमिर खान के अधिवक्ता के इस तर्क को खारिज कर दिया कि मंगल पांडे न तो नगवा के रहने वाले थे और न ही संतोष पांडे उनके परिवार के ही है।

अदालत ने आमिर खान की ओर से पेश दलीलरें को खारिज करते हुए कहा कि मंगल पांडे बलिया जिले के नगवा गाँव के ही निवासी थे और मुकदमे के वादी संतोष पांडे उनके परिवार के ही हैं।

अदालत ने फिल्म के प्रदर्शन पर स्थगन तथा अन्य मामले में फैसला के लिए 18 नवम्बर की तारीख तय की है।

मुकदमे के वादी संतोष पांडे ने स्वयं को शहीद मंगल पांडे का प्रपौत्र बताते हुए फिल्म में उनकी जीवनी को गलत तरीके से प्रस्तुत करने का आरोप लगाया था। (भाषा)
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine