अक्षय तृतीया : आपकी राशि के अनुसार कीजिए यह शुभ उपाय


मेष : जिनकी जन्म राशि मेष है उन्हें लाल कपड़े में सवा पाव या सवा किलो मसूर दाल बांधकर व्यावसायिक प्रतिष्ठान में रखना चाहिए। नौकरी पेशा व्यक्ति दाल को पूजा स्थान में रख सकते हैं। दाल का दान भी आपके लिए लाभप्रद रहेगा।
वृषः वृष राशि में जन्मे व्यक्तियों के स्वामी ग्रह शुक्र सुख प्रदान करने वाले ग्रह हैं। इस राशि के व्यक्तियों को अक्षय तृतीया के दिन एक कलश में जल भरकर दान करना चाहिए। धन वृद्धि के लिए सफेद बर्तन में गंगा का जल भरकर सफेद कपड़े से उसका मुंह बंद कर दें। इसे घर में पूजा स्थान या व्यावसायिक प्रतिष्ठान में रखने से अपार धन का योग बनेगा।

मिथुन: बुध की राशि मिथुन में जिनका जन्म हुआ है उन्हें मूंग की दाल दान करना चाहिए। अक्षय तृतीया के दिन कांसे के बर्तन में हरा कपड़ा लपेटकर पूजा स्थल में रखें इससे राशि स्वामी की स्थिति मजबूत होगी। सुख और धन बढ़ेगा।
कर्क : चन्द्रमा की राशि कर्क में जन्मे व्यक्तियों को अक्षय के तृतीया के दिन चांदी में मोती धारण करना चाहिए। चांदी का एक सिक्का जल में रखकर पूर्व दिशा में रखने से आय बढ़ेगा। व्यय में कमी आएगी।

सिंहः सूर्य की राशि सिंह में जिनका जन्म हुआ है उन्हें अक्षय तृतीया के दिन सुबह सबसे पहले उगते हुए सूर्य को जल देना चाहिए। इसके बाद गुड़ का दान करें। किसी बर्तन में समुद्री अथवा सेंधा नमक डालकर घर में घुमाएं और इसे पूजा स्थान में कहीं रख दें। स्वास्थ्य और धन का लाभ बढ़ेगा।
कन्याः बुध की दूसरी राशि कन्या में जिनका जन्म हुआ है उन्हें कपूर की बाती जलाकर पूरे घर में घुमाना चाहिए। हरी चूडियां, श्रृंगार सामान और मूंग की दाल दान कर सकते हैं। अक्षय तृतीया के दिन पन्ना धारण करना आपके लिए बहुत ही शुभ रहेगा।

तुलाः तुला राशि के व्यक्तियों को धन वृद्घि के लिए अक्षय तृतीया के दिन सफेद वस्त्र का दान करना चाहिए। हीरा अथवा जर्कन धारण करना आपके लिए सुखदायक और उन्नति प्रदान करने वाला होगा। घर में अथवा व्यापारिक प्रतिष्ठान में सफेद रंग की मूर्ति स्थापित करें।
वृश्चिक: इस राशि के व्यक्तियों को एक शीशी में शहद भरकर उसे लाल कपड़े में लपेटकर घर के दक्षिण भाग में रह देना चाहिए। इस दिन मूंगा धारण करना आपके स्वास्थ्य और धन वृद्धि के लिए अनुकूल रहेगा।

धनुः गुरु की इस राशि में जिनका जन्म हुआ है उन्हें पीले कपड़े में हल्दी लपेटकर पूजा स्थान में रखना चाहिए। आपके लिए अच्छा रहेगा कि कोई धार्मिक पुस्तक बांटे। बूंदी के लड्डू दान करना भी शुभ रहेगा।
मकरः अक्षय तृतीया के दिन किसी बर्तन में तिल का तेल भरकर काले कपड़े में लपेट लें। इसे घर के पूर्वी भाग में रखें। इसके बाद ग्यारह बार दशरथकृत शनि स्तोत्र का पाठ करें। यह आपके भाग्य को बलवान बनाएगा। प्रयास के अनुरुप धन बढ़ता जाएगा।

कुंभः किसी जरुरतमंद को आर्थिक दान दें। इससे भाग्य को बल मिलेगा। तिल, लोहा, नारियल का दान भी आपके लिए अनुकूल रहेगा। धन और सुख के लिए नीलम धारण कर सकते हैं। अक्षय तृतीया इस काम के लिए उत्तम है।
मीनः पीले रंग के वस्त्र में पीला सरसों और कुछ सिक्के बांधकर पूजा स्थान में उत्तर पूर्व दिशा की ओर रखें। किसी बुजुर्ग व्यक्ति को वस्त्र दान करें और उनसे आशीर्वाद प्राप्त करें। पिता और गुरु का कभी अपमान न करें, धन और सम्मान दोनों बढ़ेगा।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

अत्यंत आश्चर्यजनक है श्री घंटाकर्ण यंत्र, जानिए कैसे करें ...

अत्यंत आश्चर्यजनक है श्री घंटाकर्ण यंत्र, जानिए कैसे करें पूजन
श्री घंटाकर्ण यंत्र अति विशिष्ट एवं प्रभावशाली है, जो वर्तमान में अन्य किसी पुस्तक में ...

गंगा में विसर्जित अस्थियां कहां गायब हो जाती हैं?

गंगा में विसर्जित अस्थियां कहां गायब हो जाती हैं?
हिन्दू धर्म में व्यक्ति को समाधी देने या दाह संस्कार दोनों की ही परंपरा है, जो कि शास्त्र ...

करोड़ों खर्च लेकिन फिर भी गंगा मैली की मैली, कौन है ...

करोड़ों खर्च लेकिन फिर भी गंगा मैली की मैली, कौन है गुनाहगार...
गंगा भारत की सबसे महत्वपूर्ण नदी है और इसका धार्मिक महत्व भी बहुत अधिक है। कहते है कि ...

किस दिशा में प्राप्त होगी सफलता, जानिए अपनी कुंडली से...

किस दिशा में प्राप्त होगी सफलता, जानिए अपनी कुंडली से...
अक्सर अपनी जन्म पत्रिका का परीक्षण करवाते समय लोगों का प्रश्न होता है कि किस दिशा में ...

कर्मकांड करवाने वाले आचार्य व पुरोहित कैसे हो, आप भी ...

कर्मकांड करवाने वाले आचार्य व पुरोहित कैसे हो, आप भी जानिए...
कर्मकांड हमारी सनातन संस्कृति का अभिन्न अंग है। बिना पूजा-पाठ व कर्मकांड के कोई भी हिन्दू ...

आचार्य महाश्रमण के 57वें जन्म दिवस पर विशेष

आचार्य महाश्रमण के 57वें जन्म दिवस पर विशेष
आचार्य महाश्रमण एक ऐसी आलोकधर्मी परंपरा का विस्तार है, जिस परंपरा को महावीर, बुद्ध, ...

अपार धन चाहिए तो जपें श्रीगणेश के ये चमत्कारिक मंत्र

अपार धन चाहिए तो जपें श्रीगणेश के ये चमत्कारिक मंत्र
श्रीगणेश की आराधना को लेकर कुछ ऐसे तथ्य हैं, जिनसे आप अब तक अंजान रहे। जी हां, आप अगर ...

बहुत फलदायी है मोहिनी एकादशी, जानें व्रत का महत्व...

बहुत फलदायी है मोहिनी एकादशी, जानें व्रत का महत्व...
संसार में आकर मनुष्य केवल प्रारब्ध का भोग ही नहीं भोगता अपितु वर्तमान को भक्ति और आराधना ...

कठिन मनोरथ पूर्ण करना है तो करें बटुक भैरव अनुष्ठान

कठिन मनोरथ पूर्ण करना है तो करें बटुक भैरव अनुष्ठान
हमारे शास्त्रों में ऐसे अनेक अनुष्ठानों का उल्लेख मिलता है जिन्हें उचित विधि व निर्धारित ...

24 अप्रैल 2018 का राशिफल और उपाय...

24 अप्रैल 2018 का राशिफल और उपाय...
बुरी सूचना से व्यथा रहेगी। दौड़धूप अधिक रहेगी। झंझटों में न पड़ें। व्यवसाय धीमा चलेगा। ...

राशिफल