Widgets Magazine
Widgets Magazine

निक्की हेली को संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी दूत चुनने पर की ट्रंप की प्रशंसा

वॉशिंगटन|
वॉशिंगटन। निक्की हेली को में अमेरिका के दूत के तौर पर नामित किए जाने पर  देश में सभी पार्टियों के भारतीय-अमेरिकियों ने नवनिर्वाचित राष्ट्रपति की प्रशंसा की  है। यदि इस बात की पुष्टि हो जाती है तो 44 वर्षीय निक्की किसी अमेरिकी राष्ट्रपति के  प्रशासन में सेवाएं देने वाली कैबिनेट स्तर की पहली भारतीय-अमेरिकी अधिकारी होंगी।


 
पिछले चार रिपब्लिकन नेशनल कन्वेंशन में भाग लेने की विशिष्टता हासिल करने वाले  रिपब्लिकन नेता संपत शिवांगी ने कहा कि इससे भारतीय-अमेरिकी समुदाय रिपब्लिकन पार्टी के  नजदीक ही नहीं आएगा बल्कि इससे भारत एवं अमेरिका के संबंध भी और मजबूत होंगे।
 
शिवांगी ने कहा कि यह शानदार कदम है। सर्वोच्च वैश्विक संगठन में अब भारत का एक मित्र  है। इससे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद और अन्य महत्वपूर्ण मामलों में भारत को उचित स्थान  हासिल करने में मदद मिल सकती है। हेली के बारे में एक सराहनीय बात यह है कि वे अपनी  जड़ें या विरासत भूली नहीं हैं। सिलिकॉन वैली के एक भारतीय-अमेरिकी उद्यमी एम रंगास्वामी  ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र राजदूत के पद के लिए निक्की बेहतरीन चयन हैं।
 
उन्होंने कहा कि उन्हें दक्षिण कैरोलिना में विदेशी कंपनियों एवं सरकारों के साथ पहले भी  अनुभव है। निक्की भारत जा चुकी हैं और उनके प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से अच्छे संबंध हैं। 
 
रंगास्वामी ने कहा कि भारतीय-अमेरिकी इस बात से उत्साहित हैं कि अब पहली बार हमारे  समुदाय का कोई अमेरिकी सरकार में कैबिनेट स्तर पर है। एशिया-पैसिफिक आइलैंडर समिति  के संबंध में ट्रंप कैंपेन में सलाहकार रहे पुनीत अहलूवालिया ने कहा कि नवनिर्वाचित राष्ट्रपति  ट्रंप द्वारा संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका के दूत के तौर पर गवर्नर निकी हेली का चयन किया जाना  सभी भारतीय-अमेरिकियों के लिए गौरव की बात है। 
 
उन्होंने कहा कि हेली की नियुक्ति (उनकी भारतीय एवं सिख विरासत) आगामी प्रशासन की  समावेशिता का स्पष्ट संकेत है। नवनिर्वाचित राष्ट्रपति पार्टी को एकजुट कर रहे हैं और काम  करने के लिए इस प्रशासन में उन योग्य नेताओं को शामिल कर रहे हैं जिनका ट्रैक रिकॉर्ड  शानदार है। 
 
न्यूयॉर्क में एक शीर्ष भारतीय-अमेरिकी अटॉर्नी रवि बत्रा ने कहा कि ट्रंप द्वारा संयुक्त राष्ट्र में  हमारी राजदूत के तौर पर, सुरक्षा परिषद में होर्स शू मेज पर बैठने के लिए, एक कैबिनेट स्तर  के पद के लिए निकी हेली को नामित किए जाने की बात पर मुझे विश्वास नहीं हो पा रहा। 
 
भारतीय-अमेरिकी समुदाय के लिए सबसे बड़ा मील का पत्थर स्थापित होने, अपने नागरिकों का  देश के प्रति जो प्रेम है और संविधान के प्रति जो भरोसे है उसका मैं जश्न मनाता हूं। टेक्सास  के अशोक मागो ने निक्की की नियुक्ति का स्वागत करते हुए कहा कि यह तो शुरुआत है।
 
अमेरिका भारत राजनीतिक कार्य समिति (यूएसआईएनपीएसी) के अध्यक्ष संजय पुरी ने कहा  कि गवर्नर हेली ने दक्षिण कैरोलीना की पहली महिला एवं भारतीय-अमेरिकी गवर्नर के तौर पर  शानदार काम किया है और वह संयुक्त राष्ट्र में शीर्ष दूत के तौर पर निश्चित ही सफल होंगी।  (भाषा)
 
Widgets Magazine
Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine