अमी बेरा के पिता जेल से छूटे

Last Updated: गुरुवार, 5 अक्टूबर 2017 (11:07 IST)
सेक्रामेंटो, कैलिफोर्निया। अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के भारतीय अमेरिकी सदस्य अमी बेरा के पिता, 84 वर्षीय, बाबूलाल बेरा को 28 सितंबर को एफसीआई टर्मिनल आइलैंड की लो सिक्यूरिटी प्रिजन, सैन पैड्रो, ‍कैलिफोर्निया से रिहा कर दिया गया। इंडिया वेस्ट डॉट कॉम के अनुसार बेरा को एक साल की सुना सुनाई गई थी लेकिन उन्हें दो माह पहले ही रिहा कर दिया गया।

बेरा पर प्रचार संबंधी वित्तीय कानूनों को तोड़ने के आरोप में सजा सुनाई गई थी। उन पर आरोप था कि उन्होंने अपने बेटे के चुनाव के दौरान अपने नाम से दूसरे लोगों का पैसा इस्तेमाल किया था। अमेरिकी कानून के अनुसार ऐसे लोगों को 'स्ट्रा डोनर' कहा जाता है। तमाम तरह की बीमारियों से पीडि़त बाबूलाल बेरा को तीन साल तक प्रोबेशन पर रहना पड़ेगा और इसके साथ एक लाख डॉलर का जुर्माना भी किया गया।

कोर्ट दस्तावेजों के अनुसार बाबूलाल बेरा ने अपने बेटे के चुनाव प्रचार के लिए करीब तीन लाख डॉलर दिए थे जबकि बेरा और उनकी पत्नी कांता दोनों को चुनाव के लिए प्रत्येक केवल 2400 डॉलर देने की अनुमति थी। अमी बेरा के 2010 और 2014 के कांग्रेस के चुनावों में इस प्रकार सीमा से अधिक पैसा दिया और इसमें उनके परिजनों और मित्रों ने भी योगदान किया था।

मई 2016 में, बाबूलाल बेरा संघीय प्रचार के वित्तीय कानूनों का दोबार कानून तोड़ने की बात मानी। पिछले अगस्त में उन्हें सजा सुनाई गई थी। हालांकि अमी बेरा के खिलाफ भी धोखाधड़ी की दोबारा जांच करने का आदेश दिया गया लेकिन बाद में मामला वापस ले लिया गया। जबकि कांता बेरा के खिलाफ कोई आरोपपत्र दाखिल नहीं किया गया था।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

इसलिए जरूरी है बच्चों का मुंडन संस्कार, पढ़ें 5 जरूरी बातें

इसलिए जरूरी है बच्चों का मुंडन संस्कार, पढ़ें 5 जरूरी बातें
मुंडन संस्कार के बारे में मान्यता है कि इससे शिशु का मस्तिष्क और बुद्धि दोनों ही पुष्ट ...

दूध नहीं पीते हैं मोटे होने के डर से तो यह 4 स्वादिष्ट ...

दूध नहीं पीते हैं मोटे होने के डर से तो यह 4 स्वादिष्ट विकल्प हैं आपके लिए
अगर आप वजन को बढ़ने से रोकना चाहते हैं और हेल्थ से किसी तरह के समझौते को तैयार नहीं तो ...

हमारे देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी मानते हैं मोर ...

हमारे देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी मानते हैं मोर पंखों को शुभ, पढ़ें 10 चौंकाने वाली बातें
मोर, मयूर, पिकॉक कितने खूबसूरत नाम है इस सुंदर से पक्षी के। जितना खूबसूरत यह दिखता है ...

अजी अंडा छोड़िए, इन 5 शाकाहारी चीजों में है भरपूर प्रोटीन

अजी अंडा छोड़िए, इन 5 शाकाहारी चीजों में है भरपूर प्रोटीन
हाल ही में पोलैंड की पशु चिकित्सा सेवा ने करीब 40 लाख अंडों को बाजार से हटा लिया है। ये ...

तुरंत फेंक दे अपना पुराना लूफाह वर्ना संक्रमण का है खतरा

तुरंत फेंक दे अपना पुराना लूफाह वर्ना संक्रमण का है खतरा
नहाते हुए अपने शरीर की वह त्वचा व हिस्सा, जो केवल साबुन से साफ नहीं हो पाता, उसकी सफाई के ...

शादीशुदा लोगों को कम होता है हृदय रोग का खतरा

शादीशुदा लोगों को कम होता है हृदय रोग का खतरा
लंदन। एक अध्ययन में दावा किया गया है कि शादी से लोगों को दिल की बीमारियों और स्ट्रोक से ...

4 टिप्स से जानें आपकी त्‍वचा के लिए कितने एसपीएफ वाला ...

4 टिप्स से जानें आपकी त्‍वचा के लिए कितने एसपीएफ वाला सनस्क्रीन सही होगा?
आमतौर पर आपने दूसरों से सुना होगा कि जितना ज्यादा एसपीएफ वाला सनस्क्रीन लगाएंगे उतना ही ...

हाथों में मेहंदी का रंग गहरा करने के 10 टिप्स

हाथों में मेहंदी का रंग गहरा करने के 10 टिप्स
मेहंदी से रचे हाथ किसे अच्छे नहीं लगते! जिनके हाथों में मेहंदी लगती है वे उसके रंग को ...

अचानक धन मिल जाए तो बात बन जाए.. अगर आप भी ऐसा सोचते हैं तो ...

अचानक धन मिल जाए तो बात बन जाए.. अगर आप भी ऐसा सोचते हैं तो यह 6 उपाय आजमाएं
परिश्रम से बड़ा कोई धन नहीं। लेकिन सांसारिक सुखों को हासिल करने के लिए जो धन चाहिए वह अगर ...

धूमावती जयंती 2018 : मनोवांछित फल पाना है तो ऐसे करें पूजन, ...

धूमावती जयंती 2018 : मनोवांछित फल पाना है तो ऐसे करें पूजन, पढ़ें ये विशेष मंत्र...
वर्ष 2018 में 20 जून, बुधवार को धूमावती जयंती है। इस विशेष अवसर पर ब्रह्म मुहूर्त में ...