प्रवासी साहित्य : क्या तुम्हें एहसास है?


 
 
क्या तुम्हें एहसास है अनगिनत उन आंसुओं का?
क्या तुम्हें एहसास है सड़ते हुए नरकंकालों का?
क्या तुम्हें आती नहीं आवाज, रोते नन्हे मासूमों की?
क्या नहीं जलता हृदय देख पीड़ितों को?
 
अफ्रीका-एशिया के शोषित, बीमार, बेघर, शोषित कोटि मनुज, 
अनाथ बालकों की सूनी लाचार आंखें देख-देखकर।
क्या नहीं दुखता दिल तुम्हारा, आंख भर आती नहीं क्यों?
क्यों मिला उनको ये मुकद्दर खौफनाक दु:ख से भरा?
 
कितने भूखे-प्यासे बिलखते रोगीष्ट आधारहीन जन, 
छिन्न-भिन्न अस्तित्व के बदनुमा दाग से ये तन।
लाचार आंखें पीछा करती हुईं जो न रो सकें, 
ये कैसा दृश्य देख रही हूं मारकर मेरा मन।
 
एहसास तो है उनकी विवशताओं का मुझे भी,
पर हाय! कुछ कर नहीं पाते कुछ ज्यादा ये हाथ मेरे। 
लाघवता मनुज की ये असाधारण विवशता ढेर-सी, 
भ्रमित करती मेरे मन की पीड़ा मेरे ही हृदय को।
 
यह वसुंधरा कब स्वर्ग-सी सुंदर सजेगी देव मेरे?
कब धरा पर हर जीव सुख की सांस लेगा देव मेरे?
कब न कोई भूखा या प्यासा रहेगा ओ देव मेरे?
कब मनुज के उत्थान के सोपान का नव सूर्योदय उगेगा?
 

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

कविता : भारत के वीर सपूत

कविता : भारत के वीर सपूत
तेईस मार्च को तीन वीर, भारतमाता की गोद चढ़े। स्वतंत्रता की बलवेदी पर,

सुनो नन्ही बच्चियों, हम अपराधी हैं तुम्हारे

सुनो नन्ही बच्चियों, हम अपराधी हैं तुम्हारे
माता-पिता की सघन छांव से अधिक सुरक्षित जगह क्या होगी.. ? सुरक्षा की उस कड़ी पहरेदारी में ...

कर्मकांड करवाने वाले आचार्य व पुरोहित कैसे हो, आप भी ...

कर्मकांड करवाने वाले आचार्य व पुरोहित कैसे हो, आप भी जानिए...
कर्मकांड हमारी सनातन संस्कृति का अभिन्न अंग है। बिना पूजा-पाठ व कर्मकांड के कोई भी हिन्दू ...

आम के यह 'खास' फायदे शर्तिया नहीं पता होंगे आपको

आम के यह 'खास' फायदे शर्तिया नहीं पता होंगे आपको
रसीले पके आम अत्यंत स्वादिष्ट लगते हैं। आइए जानते हैं इसके 5 ऐसे फायदे जो आपको अचरज में ...

मन को लुभाएगी लाजवाब चटपटी कैरी की चटनी...

मन को लुभाएगी लाजवाब चटपटी कैरी की चटनी...
एक कड़ाही में तेल गरम कर चना दाल, मैथी और जीरा डालकर भून लें। लाल मिर्च, मीठा नीम, हींग ...

बहुत फलदायी है मोहिनी एकादशी, जानें व्रत का महत्व...

बहुत फलदायी है मोहिनी एकादशी, जानें व्रत का महत्व...
संसार में आकर मनुष्य केवल प्रारब्ध का भोग ही नहीं भोगता अपितु वर्तमान को भक्ति और आराधना ...

घर में यह दवा बनाएं, 100 रोगों को दूर भगाएं

घर में यह दवा बनाएं, 100 रोगों को दूर भगाएं
सिर्फ एक दवा का प्रयोग करके आप 100 प्रकार के वात रोगों से बच सकते हैं। जी हां, इस दवा का ...

कठिन मनोरथ पूर्ण करना है तो करें बटुक भैरव अनुष्ठान

कठिन मनोरथ पूर्ण करना है तो करें बटुक भैरव अनुष्ठान
हमारे शास्त्रों में ऐसे अनेक अनुष्ठानों का उल्लेख मिलता है जिन्हें उचित विधि व निर्धारित ...

शत्रु और खतरों से सुरक्षा करते हैं ये मंत्र, अवश्य पढ़ें...

शत्रु और खतरों से सुरक्षा करते हैं ये मंत्र, अवश्य पढ़ें...
बौद्ध धर्म को भला कौन नहीं जानता। बौद्ध धर्म भारत की श्रमण परंपरा से निकला महान धर्म ...

संविधान के बहाने कांग्रेस को बचाने की जुगत

संविधान के बहाने कांग्रेस को बचाने की जुगत
मोदी और उनकी सरकार से हर क्षेत्र में मात खाती आ रही कांग्रेस ने अब संविधान को अपने ...