कान फिल्म फेस्टिवल : ऐसा रहा माहौल

WD|
प्रज्ञा मिश्रा 
शुक्रवार 13 मई को कान फेस्टिवल में आए कुछ खास मेहमानों को एक झटका लगा। फिल्म फेस्टिवल की भागमभाग से दूर होटल डू कैप में लोग खाने-पीने का मजा ले रहे थे कि अचानक एक डिंगी में सवार छह लोग होटल के डॉक के पास आ गए। यह लोग मिलिट्री के कपड़ों में थे और चाल ढाल से लोगों को डराने में कामयाब थे। सिक्योरिटी को बुलाया गया और कुछ अफरातफरी भी मच गई। 
 
बाद में पता चला कि यह तो फ्रांस की ही एक इंटरनेट कंपनी Oraxy का पब्लिसिटी का हथकंडा था। यह पेरिस की कंपनी है और रईसों के लिए मार्केटिंग का काम करती है। इस पूरे हंगामे में किसी को कोई नुकसान तो नहीं हुआ लेकिन कंपनी को कोई फायदा भी नहीं हुआ। फ्रांस की नेशनल पुलिस के प्रवक्ता ने कहा कि यह सिर्फ प्रचार प्रसार के लिए किया गया था लेकिन यह बहुत ही भद्दा मजाक था। 
 
कान फिल्म फेस्टिवल में फिल्मी दुनिया की खास हस्तियों और कई राजनयिकों के आने की वजह से यहां आतंकी हमले का डर भी ज्यादा था। इस साल हमेशा से ज्यादा सिक्योरिटी है और ज्यादा चेक पॉइंट्स रहे। एक ही बिल्डिंग में दो से तीन बार बैग चेक हो सकते थे।
 
खाने-पीने के सामान को लेकर इतनी सख्ती भी पहले कभी नहीं थी। वैसे तो जगह-जगह पानी और कॉफी का इंतजाम है लेकिन अगर एक सिनेमा हाल से भाग कर दूसरे में पहुंचना है तो खाना तो क्या पानी भूल ही जाएं तो बेहतर है। 
 
वैसे इस पूरे हंगामे की खबर अगले ही दिन लोगों को मिली और जिस होटल में यह हुआ वहां होने वाली शाम की पार्टी पर भी कोई असर नहीं पड़ा। ... और चलती का नाम ही तो जिंदगी है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :