Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine

भारतीय अमेरिकी सर्जन ने 5 लाख डॉलर दान में दिए

। एक परोपकारी और ने न्यू यार्क स्थि‍त को 16 दिसंबर को पांच लाख डॉलर की राशि दान में दी। भारतीय अमेरिकी डॉक्टर ने यह के इमर्जेंसी डिपार्टमेंट की निर्माण परियोजना के लिए दिए हैं। सिलिव डॉट कॉम के अनुसार उनकी यह राशि छह करोड़ पचास लाख डॉलर की निर्माण परियोजना में सहायक होगी।
 

 

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस अस्पताल अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेनियल मेसिना ने कहा कि ' हम डॉ. अर्स का सम्मान करेंगे जोकि आरयूएमसी परिवार के एक बहुत ही समर्पित डॉक्टर हैं।' यूनिवर्सिटी ऑफ मैसूर के मेडिकल स्कूल ग्रेजुएट डॉ. अर्स 1960 के दशक के प्रारंभ में एक आर्थोपीडिक सर्जन बनने के‍ लिए न्यू यॉर्क आए थे।
 
उन्होंने सेंट विंसेंट्स ‍मेडिकल सेंटर पर प्रैक्टिस की जिसका बाद में नाम बदलकर रिचमॉंड मेडिकल सेंटर कर दिया गया था। वे 1986 से 2001 तक मेडिकल सेंटर में ऑर्थोपीडिक सर्जरी विभाग के प्रमुख रहे। इस अवसर पर डॉ. अर्स ने कहा कि हमारा समुदाय बढ़ रहा है और हमारी मांग अस्पताल के इमर्जेंसी रूम में बढ़ रही हैं। 'यहां पर जहां एक वर्ष में 22 हजार रोगियों को ठीक करने की क्षमता है, वहां हम प्रतिवर्ष 65 हजार रोगियों को ठीक कर रहे हैं।' अपने भाषण में उन्होंने अस्पताल और अपने पेशे के प्रति आभार जताया।
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine
Widgets Magazine Widgets Magazine
Widgets Magazine