Webdunia RSS मुख पृष्ठ » खबर-संसार » नरेन्द्र मोदी (Narendra_modi)

अकेले नरेन्द्र मोदी ही 'राक्षस' क्यों..?

अकेले नरेन्द्र मोदी ही 'राक्षस' क्यों..?
फरवरी 2002 में जब हिंसक दंगों से गुजरात के कुछ हिस्से कांप उठे, तब मैंने भी राष्ट्रीय मीडिया और अपने सक्रिय प्रतिभागी मित्रों के विवरण को स्वीकार कर लिया और मान लिया कि वर्ष 2002 के दंगों में मोदी भी लिप्त थे। इस कारण से मैंने भी मोदी के खिलाफ बयानों पर हस्ताक्षर कर दिए और मानुषी में उन लेखों को छापा, जिनमें गुजरात सरकार को दोषी ठहराया गया था। हमने भी दंगा पीडि़तों के लिए फंड इकट्‍ठा किया।
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
 
भाजपा ने अपने वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के कड़े विरोध के बावजूद गुजरात के मुख्यमंत्री और हिंदुत्व के कट्टर समर्थक नरेन्द्र मोदी को शुक्रवार को आगामी लोकसभा चुनावों के लिए पार्टी का प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित कर दिया।
भाजपा द्वारा गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री उम्मीदवार बनाए जाने पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उन पर हमला बोला है। उन्होंने मोदी की नियुक्ति पर कहा कि 'विनाश काले विपरीत बुद्धि'। कभी भाजपा के घटक दल रहे जद (यू) के नीतीश कुमार ने कहा कि विभाजनकारी तत्वों को देश स्वीकार नहीं करेगा।
 
गुजरात के मुख्‍यमंत्री नरेन्द्र मोदी को भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने की घोषणा के साथ ही निश्चित ही उनकी ताकत में इजाफा हुआ है। मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ जैसे हिन्दी भाषी प्रदेशों के विधानसभा चुनाव से पहले तो मोदी की घोषणा और अहम हो जाती है। खासकर मध्यप्रदेश के संदर्भ में तो 'मोदी पॉवर' के आते ही अटकलों का दौर भी शुरू हो गया है।