नवरात्र में स्थापित अखंड दीप और 5 काम की बातें

Widgets Magazine
पर्व के दौरा अखंड ज्योति रखी जाती है उससे घर में सुख-समृद्धि का निवास होता है और शत्रुओं पर विजय प्राप्त होती है। 
नवरात्र में दीपक जलाए रखने से घर-परिवार में सुख-शांति एवं पितृ शांति रहती है। 
 
नवरात्र में घी एवं सरसों के तेल का अखंड दीपक जलाने से त्वरित शुभ कार्य सिद्ध होते हैं। 
नवरात्र में विद्यार्थियों के लिए घी का दीपक जलाना शुभ रहता है। 
 
शनि के कुप्रभाव से मुक्ति के लिए तिल्ली के तेल की अखंड जोत शुभ मानी जाती है। 
 
वास्तु दोष को दूर करने के लिए दोष वाली जगह पर दीपक रखना चाहिए।
* अखंड ज्योति को पूजन स्थल के आग्नेय कोण में रखा जाना चाहिए, क्योंकि आग्नेय कोण अग्नि तत्व का प्रतिनिधित्व करता है।

 * वास्तु में बताया गया है कि शाम के समय पूजन स्थान पर ईष्टदेव के सामने प्रकाश का उचित प्रबंध होना चाहिए। इसके लिए घी का दीया जलाना अत्यंत उत्तम होता है। इससे घर के लोगों की सर्वत्र ख्याति होती है।
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine