तेजस्वी ने गरमाई यूपी की राजनीति, भाजपा पर बोला हमला

Last Updated: बुधवार, 16 जनवरी 2019 (13:31 IST)
देर रात बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री व के नेता उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुंचे। उनके पहुंचने के बाद उत्तर प्रदेश के राजनीतिक गलियारों में 2019 के लोकसभा चुनाव को लेकर चर्चा जोरों से शुरू हो गई।
लखनऊ पहुंचे तेजस्वी यादव ने सबसे पहले पूर्व मुख्यमंत्री व बसपा सुप्रीमो सुश्री मायावती से मुलाकात की और उसके बाद वे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष से मिले। मुलाकात के बाद राजद नेता तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा तो संविधान की हत्या करने वाली पार्टी है।
संविधान विरोधी पार्टी का लोकसभा चुनाव में अब तो उत्तरप्रदेश के साथ ही बिहार से भी सफाया हो जाएगा। उन्होंने कहा कि इस संविधान विरोधी पार्टी की उलटी गिनती शुरू हो गई है। नागपुरिया कानून से देश चलाया जा रहा है। बंच ऑफ थॉट्स किताब को संविधान की जगह रखना चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि देश के लोगों को धर्म व जाति के नाम पर लड़ाकर अपना उल्लू सीधा किया है। अब लोगों को इनकी सारी साजिश का पता चल गया है। भाजपा की सरकार में मॉब लिंचिंग बढ़ी है। समाज में जहर फैलाया जा रहा है। देश में हर तरफ अघोषित इमरजेंसी का माहौल है। इनके राज में तो हर संवैधानिक संस्थाओं को तानाशाही करके अपने फायदे के लिए चलाया जा रहा है।
यादव ने कहा कि देश में बेरोजगारी बढ़ी है। किसान मर रहा है। उन्होंने ने कहा कि उत्तरप्रदेश में सपा व बसपा के बीच गठबंधन के लिए मैं तहेदिल से अखिलेश यादव व मायावती जी को धन्यवाद देता हूं। उन्होंने कहा कि भाजपा के खिलाफ यह गठबंधन देश की राजनीति की दिशा व दशा तय करेगा।

-->

और भी पढ़ें :