अपराध शाखा के अधिकारियों ने रोहित शेखर की पत्नी व परिवार के सदस्यों से पूछताछ की

Last Updated: रविवार, 21 अप्रैल 2019 (00:00 IST)
नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने की अस्वाभाविक मृत्यु के मामले में उनकी पत्नी और परिवार के सदस्यों से शनिवार को की। सूत्रों ने बताया कि अपराध शाखा के अधिकारियों ने शेखर की पत्नी अपूर्वा से 8 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की।
उन्होंने कहा कि अपूर्वा से डिफेंस कॉलोनी स्थित उनके आवास में उनके प्रवेश, उनकी दिनचर्या के बारे में पूछताछ की गई कि उन्होंने दिन में क्या किया और यह कि उन्हें तब अजीब क्यों नहीं लगा, जब शेखर पूरे दिन सोते रहे।

सूत्रों ने बताया कि शेखर के भाई सिद्धार्थ और घरेलू सहायकों मार्था और गोलू से भी पूछताछ की गई, क्योंकि वे भी शेखर की मृत्यु के समय आवास में मौजूद थे। सूत्रों ने बताया कि अधिकारियों को संदेह है कि हत्या में कोई भीतर का ही व्यक्ति शामिल है।
दिल्ली पुलिस ने गत गुरुवार को शेखर की मृत्यु के सिलसिले में हत्या का एक मामला दर्ज किया था। पुलिस ने मामला शेखर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के कुछ घंटे बाद दर्ज किया जिसमें कहा गया था कि उनकी गला घोंटे जाने के चलते सांस रुकने की वजह से हुई थी।

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत एनडी तिवारी के पुत्र शेखर को मंगलवार को दक्षिण दिल्ली के एक अस्पताल लाया गया था, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था। मामले को जांच के लिए अपराध शाखा को भेज दिया गया है। शेखर के रिश्तेदार राजीव और उनकी पत्नी कुमकुम से भी मामले में पूछताछ की गई।
पुलिस सूत्रों ने बताया कि सोमवार और मंगलवार की दरमियानी रात को देर रात 2 से सुबह 4 बजे तक रोहित शेखर के फोन से कुमकुम को कम से कम 5-6 कॉल किए गए। उन्होंने कहा कि पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि शेखर ने इतनी रात में उससे संपर्क क्यों किया? पड़ोसियों ने दावा किया कि दंपति के बीच अक्सर झगड़े होते थे और पिछले महीने ही उनमें से एक ने पीसीआर कॉल की थी। (भाषा)


और भी पढ़ें :