हां, मैंने गिरवाया था अयोध्या में विवादित ढांचा...

पुनः संशोधित शुक्रवार, 21 अप्रैल 2017 (13:59 IST)
पूर्व भाजपा सांसद और राम जन्म भूमि न्यास के सदस्य डॉ. रामविलास दास वेदांती ने शुक्रवार को दावा किया कि उनके कहने पर ही अयोध्या में विवादित ढांचा गिराया गया था।
Widgets Magazine

वेदांती ने कहा है कि उनके, महंत अवैधनाथ व अशोक सिंघल के कहने पर 6 दिसंबर 1992 को कारसेवकों ने अयोध्या में विवादित ढांचा को गिरा दिया था। हमने ही कारसेवकों को उकसाया था और कहा था कि एक धक्का और दो, विवादित ढांचा गिरा दो।'

उन्होंने दावा किया कि उस समय लाल कृष्ण अडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, विनय कटियार समेत अन्य भाजपा और विहिप के नेता कारसेवकों को उकसा नहीं रहे थे, बल्कि उन्हें शांत करने का प्रयास कर रहे थे।
वेदांती ने कहा कि वहां पर कोई मस्जिद नहीं थी, सिर्फ एक विवादित ढांचा था जिसे उनके कहने पर कारसेवकों ने गिरा दिया था। महंत अवैधनाथ और अशोक सिंघल का निधन हो चुका है।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।


Widgets Magazine

और भी पढ़ें :