मॉरीशस को 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा देगा भारत

पुनः संशोधित शनिवार, 27 मई 2017 (16:00 IST)
नई दिल्ली। भारत ने शनिवार को मॉरीशस को 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा उपलब्ध कराने की घोषणा की है। इसके साथ ही दोनों देशों ने समुद्री क्षेत्र सहित विभिन्न क्षेत्रों में आपसी संबंध और गहरे बनाने का संकल्प जताया है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्राविंद जगन्नाथ के बीच विस्तृत बातचीत के बाद दोनों देशों के बीच समुद्रीय सुरक्षा समझौते पर भी हस्ताक्षर किए गए।

एक वक्तव्य के मुताबिक मोदी ने कहा कि वह और जगन्नाथ इस बात पर सहमत हुए हैं कि आर्थिक अवसरों के फायदे के लिए हिन्द महासागर में परंपरागत और गैर-परंपरागत खतरों से निपटने के लिए प्रभावी व्यवस्था की जानी चाहिए।
उन्होंने कहा कि द्विपक्षीय समुद्रीय समझौते से आपसी सहयोग और क्षमता मजबूत होगी। दोनों नेताओं के बीच बातचीत के बाद कुल मिलाकर चार समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए।

प्रधानमंत्री ने कहा, 'मॉरीशस को 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा का समझौता होना मॉरीशस के विकास के प्रति हमारी मजबूत और लगातार प्रतिबद्धता का बेहतर उदाहरण है।' दोनों देशों ने व्यापार और निवेश सहित कई क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने का भी फैसला किया है।
मोदी ने कहा, 'मॉरीशस में चल रही विकास गतिविधियों में सक्रिय भागीदारी को लेकर भारत को गर्व है।' (भाषा)


Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :