खुशहाली के मामले में पाकिस्तान से पीछे है भारत

नई दिल्‍ली| पुनः संशोधित मंगलवार, 21 मार्च 2017 (10:14 IST)
नई दिल्‍ली। वर्ल्‍ड हैप्‍पीनेस रिपोर्ट 2017 के मुताबिक नॉर्वे दुनिया का सबसे खुशहाल देश है। खुशहाली के मामले में और चीन से भी पीछे हैं।
 
ससटेनेबल डेवलेपमेंट सॉल्‍यूशन नेटवर्क द्वारा तैयार की गई इस रिपोर्ट में भारत 122वें नंबर पर है। 155 देशों की इस सूची में सीरिया और यमन सबसे नीचली पायदान पर मौजूद हैं। यह संस्था संयुक्‍त राष्‍ट्र के पैमाने के मुताबिक सभी देशों के आंकड़ों पर निगाह डालते हुए इस सूची को तैयार करती है।
 
इस रिपोर्ट के मुताबिक, आतंकवाद से त्रस्त पाकिस्तान और गरीबी से जूझ रहे नेपाल इस सूचकांक में भारत से बेहतर स्थिति में हैं। सोमवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार, भारत तीन पायदान नीचे सरक आया है। इस बार नार्वे ने डेनमार्क को पीछे धकेलते हुए दुनिया के सर्वाधिक खुश देशों में पहले स्थान पर पहुंच गया है। 
 
'द वर्ल्ड हैप्पिनेस रिपोर्ट' के मुताबिक, किसी देश की खुशहाली जानने का पैमाना समाजिक सुरक्षा, रहन-सहन और न्याय अहम है. खुशी मापने के तरीकों में आर्थिक विकास, सामाजिक सहायता, जिंदगी अपने ढंग से जीने की आजादी, औसत उम्र, उदारता और भ्रष्टाचार जैसे कई कारकों को भी ध्यान में रखा जाता है।
 

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :