कंपनियों में घूसखोरी व भ्रष्टाचार का जोखिम कायम

नई दिल्ली| पुनः संशोधित शुक्रवार, 17 मार्च 2017 (16:49 IST)
नई दिल्ली। दुनियाभर के पेशेवरों का मानना है कि 2017 में कंपनियों में रिश्वतखोरी और का जोखिम कायम रहेगा। रोल और एथिस्फेयर इंस्टीट्यूट के संयुक्त अध्ययन में यह निष्कर्ष निकाला गया है।
में शामिल एक-तिहाई (35 प्रतिशत) जोखिम और अनुपालन पेशेवरों का मानना है कि 2017 में उनकी कंपनी में घूसखोरी और भ्रष्टाचार का जोखिम बढ़ेगा, वहीं 57 प्रतिशत की राय है कि यह जोखिम पिछले साल के स्तर पर ही बना रहेगा।
 
सर्वेक्षण में शामिल लोगों की राय है कि उनके भ्रष्टाचार और घूसखोरीरोधक कार्यक्रमों में सबसे अधिक खतरा तीसरे उल्लंघन (40 प्रतिशत) से है। इसके अलावा 14 प्रतिशत का मानना है कि जटिल वैश्विक नियामकीय वातावरण इसके लिए एक प्रमुख जोखिम है, वहीं 12 प्रतिशत ने कहा कि कर्मचारियों द्वारा अनुचित भुगतान सबसे प्रमुख जोखिम है। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :