भारत को अपना खुद का विमान बनाना चाहिए : एएस किरन कुमार

Last Updated: मंगलवार, 10 जुलाई 2018 (00:37 IST)
हैदराबाद। विशाल घरेलू बाजार के साथ जैसी उभरती हुई बड़ी अर्थव्यवस्था को स्वदेशी (पूरी तरह से देश में तैयार) विमान बनाना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए उसे अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठानों पर निर्भर नहीं रहना चाहिए। देश के जाने-माने वैज्ञानिक ने यह बात कही।

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के ने कहा कि भारत विमान उद्योग में उल्लेखनीय वृद्धि के लिए तैयार है।
कुमार ने कहा कि कई भारतीय उद्योग और निजी उद्यम वैश्विक विमान उद्योग में महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं। ये उद्योग और उद्यम देश के भीतर नई क्षमताएं स्थापित कर रहे हैं। आगामी दिनों और वर्षों में एक जबरदस्त मौका है, हमें देश की क्षमताओं का निर्माण करने की जरूरत है।
उन्होंने कहा कि कंपनियां महसूस कर रही हैं कि भारत में कम लागत में अच्छे कलपुर्जे और सब-सिस्टम निर्माण की असीम क्षमताएं हैं और वे धीरे-धीरे इस दिशा में बढ़ रही हैं।

कुमार ने कहा कि भारत को विमान विनिर्माण उद्योग को विकसित करने शुरू कर देना चाहिए। दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक होने के नाते हमें अंतरराष्ट्रीय सूत्रों पर निर्भर नहीं रहना चाहिए। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :