पानी में घिरी दो एक्सप्रेस ट्रेनें, एनडीआरएफ ने बचाई 2000 यात्रियों की जान

मुंबई| Last Updated: बुधवार, 11 जुलाई 2018 (09:56 IST)
मुंबई। मुंबई में पिछले चार दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण पश्चिम रेलवे के नालासोपारा और वसई स्टेशनों के बीच में फंसी लंबी दूरी की दो ट्रेनें फंस गई। ने पुलिस और अग्निशमन दल के साथ मिलकर के करीब 2000 यात्रियों को सुरक्षित बचा लिया गया है।
वडोदरा जंक्शन से सोमवार रात रवाना हुई वड़ोदरा एक्सप्रेस को मंगलवार सुबह पौने पांच बजे मुंबई सेन्ट्रल पहुंचना था। शताब्दी एक्सप्रेस भी इस समय पालघर में थी। भारी बारिश और सुबह उठी लहरों के कारण नालासोपारा और वसई स्टेशनों के बीच जलस्तर दो मीटर से भी ज्यादा बढ़ गया।

पालघर जिले में सोमवार सुबह साढ़े आठ बजे से मंगलवार सुबह साढ़े आठ बजे के बीच 240 मिलीमीटर वर्षा हुई है। राज्य परिवहन की 30 से ज्यादा बसों को में फंसे यात्रियों को लाने के लिए भेजा गया था, लेकिन वसई और आसपास जलभराव के कारण वह फंस गईं।
पालघर कलेक्टर नवनाथ जारे ने बताया कि हमने 43 कर्मियों और छह नौकाओं के साथ एनडीआरएफ की टीम को बुलाया और दोनों ट्रेनों से करीब 2000 यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाला है।
ट्रेनों से सुरक्षित निकाले गए यात्रियों को वसई स्टेशन ले जाया गया और वहां उन्हें लोकल ट्रेनों और विशेष बसों से गंतव्य तक भेजा जा रहा है।
चित्र सौजन्य : ट्विटर



वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :